Divya Himachal Logo Jun 28th, 2017

कम्पीटीशन रिव्यू


मुश्किलों के बाद मिली सफलता ज्यादा आनंदित करती है

किसी को भी सफलता एक दिन में नहीं मिलती। सफलता का सफर लंबा और जोखिम भरा होता है। जो इन जोखिमों से बिना घबराए आगे बढ़ता रहता है, सफलता उससे दूर नहीं रहती है। मुश्किलों के बाद सफलता का स्वाद ही कुछ और होता है…

बहस न करें, बातचीत पर ध्यान दें

इससे पहले हमने आपको बताया कि लोगों के साथ जुड़ने तथा लगातार बातचीत से कैसे आप अपने जीवन में सफलता प्राप्त कर सकते हो। पर बातचीत करने के साथ-साथ यह भी जरूरी हैं कि आप बातचीत कर रहे हैं या बहस। बातचीत और बहस में एक बहु ही बड़ा फर्क है बहस में कभी भी किसी मुद्दे का हल नहीं निकलता जबकि सोच समझ कर बातचीत करने से सभी मुश्किलों का हल निकलता है।

लक्ष्य को न भूलें

कभी कभी हम अपने लक्ष्य के बारे में सोचते तो रहते हैं पर अपने लक्ष्य को पाने के रास्ते में होते नहीं हैं। अपने लक्ष्य के पथ से अलग हो जाने से आप कभी भी सफलता प्राप्त नहीं कर सकते।

मजबूत विश्वास की जरूरत

आपको अपने लक्ष्य पर और अपने आप पर अटूट विश्वास की जरूरत है। अगर आप यह विश्वास ही नहीं करेंगे कि आप अपने लक्ष्य तक पहुंच पाएंगे तो आप कैसे रास्ता ढूंढेंगे और लक्ष्य तक पहुंचेंगे। साथ ही अपने जीवन में सकारात्मक सोच लायें। अपने सोच को ऊंचा करें क्योंकि आप जितना बड़ा सोचेंगे उतना बड़ा पाएंगे। अपने आप को झूठे बहाना देना बंद करें। अगर आप हर काम के लिए बहाना देंगे तो आपकी सफलता भी आपसे बहाना देती रहेगी और आप अपने सफलता तक कभी नहीं पहुंच पाएंगे।

शिक्षा की कमी

अर्ध ज्ञान या अपर्याप्त शिक्षा से कोई भी व्यक्ति अपने सफलता को प्राप्त नहीं कर सकता। आपका अनुभव और ज्ञान ही सफलता का पहला कदम है। इसके बिना तो आप अपने सफलता के लिए यात्रा शुरू ही नहीं कर सकता। पहले अपनी शिक्षा को पूरी करेंए अपने विषय पर पूरी तरह से अपना अनुभव होने के बाद ही अपना लक्ष्य तय करें और आगे बढ़ें।

एक दिन में सफलता नहीं मिलती

किसी को भी सफलता एक दिन में नहीं मिलती। सफलता का सफर लंबा और जोखिम भरा होता है। जो इन जोखिमों से बिना घबराए आगे बढ़ता रहता है, सफलता उससे दूर नहीं रहती है।

सफलता पचाना आसान नहीं

सफलता मिलने के बाद उसे पचाना और भी मुश्किल हो जाता है। क्योंकि जब आप सफल होते हैं, तो घमंड आप पर हावी हो जाता है। आप अपने आपको दूसरे से ऊपर समझने लगते हो और सफलता को बनाए रखने की यही एक चुनौती है। सफलता हासिल करना जितना ज्यादा मुश्किल है, उसे बरकरार रखना उससे और भी ज्यादा मुश्किल माना जाता है।

अहंकार और घमंड

अपने अंदर अहंकार और घमंड को न लाएं। इन दो चीजों से पूरे तरीके से दूर रहें। क्योंकि इनके रहने तक आप कभी भी सफलता प्राप्त नहीं कर सकते हैं। घमंड ने तो रावण की सोने की लंका को जलाकर राख कर दिया। घमंड कभी भी जीतता नहीं है। बेशक कुड समय लगे घमंड को हारना ही होता है। अहंकार और असफलता का चोली-दामन का साथ माना जाता है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें !

May 24th, 2017

 
 

भारत का इतिहास

प्रांतों के वर्गीकरण की व्यवस्था ब्रिटिश भारत के प्रतिनिधियों में चार प्रतिनिधि मुख्य आयुक्तों के प्रांतों के होने थे। विभाग(क) में एक दिल्ली का, एक अजमेर-मेरवाड़ा का और एक कुर्ग का प्रतिनिधि होना था। जहां कुर्ग के प्रतिनिधि का निर्वाचन वहां की विधान परिषद करती, […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

लॉर्ड किचनर ने बनाया वाइल्ड फ्लावर हाल

शिमला में कुफरी की तरफ रिज से 9 किलोमीटर की दूरी पर 2498 मीटर की ऊंचाई पर वायसराय आवास से लगभग 200 फुट अधिक ऊंचाई पर वाइल्ड फ्लावर हाल स्थित है। यह 1905 ई. में ब्रिटिश भारतीय सेनाओं के कमांडर-इन-चीफ लार्ड किचनर द्वारा बनाया गया […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

सुहाग पिटारी से वधू का शृंगार करती हैं महिलाएं

सुहाग पिटारी में लाए गए वस्त्र- जेवरों आदि से महिलाएं वधू का शृंगार करती हैं। फिर कन्या पिता स्वेच्छा से वर और कन्या को दी जाने वाली शैया पर उन्हें बिठाकर शैया दान करता है, जिसे पहाड़ी में मकलावा, हिंदी में डोली भी कहते हैं… […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

कैरियर रिसोर्स

हरियाणा लोक सेवा आयोग हरियाणा लोक सेवा आयोग द्वारा  निम्न पदों के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। पद – सहायक जिला अटार्नी(ग्रुप-बी)। शैक्षणिक योग्यता – स्नातक लॉ(प्रोफेशनल)डिग्री और बार काउंसिल में बतौर एडवोकेट नामांकन अनिवार्य। आयु सीमा – न्यूनतम 21 वर्ष और अधिकतम 42 वर्ष […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

करियर रिसोर्स

आईटी के क्षेत्र में किस प्रकार के कार्यकलापों पर आधारित जॉब मिल सकती है? — कपिल शर्मा, नाहन आईटी से जुड़ने का मतलब है कि आपके लिए कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर, नेटवर्किंग तथा इन्फार्मेशन सिस्टम मैनेजमेंट के क्षेत्रों में भविष्य निर्माण के विकल्प उपलब्ध होंगे। इनमें से […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

क्‍या आप जानते हैं

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में किस स्थान पर चांदी पाई जाती है? (क) चरागाह                 (ख) कल्पा (ग) पूह                      (घ) पियो हिमाचल प्रदेश के किस जिले में सबसे अधिक औद्योगिक इकाइयां हैं? (क) शिमला में             (ख) कांगड़ा में (ग) सोलन में              (घ) ऊना में जिला […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

सेई कोठी के पास है ‘खोहली खड्ड’ और ‘बैरा खड्ड’ का संगम

सेई कोठी गांव के समीप ‘खोहली खड्ड’ और ‘बैरा खड्ड’ का संगम हो जाता है। इस खड्ड में टोपी धार से प्रवाहित होने वाली ‘शुक्राली खड्ड’ तथा चिल्यूंडा के शिखरों से प्रवाहित होने वाली ‘ढांजू खड्ड’ भी सम्मिलित हो जाती हैं… हिमाचल की नदियां रावी […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

स्थानीय भाषा में जमलू कहा जाता है ऋषि जमदग्नि को

प्राचीन गणराज्यों के स्वरूप आज भी हिमाचल प्रदेश में उसी रूप में विद्यमान हैं। उदाहरण के लिए हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिला में मलाणा जनपद को देखा जा सकता है। मलाणा जमदग्नि ऋषि का गणराज्य या जनपद है। स्थानीय भाषा में ऋषि को जमलू कहते […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

हिमाचली पुरुषार्थ : सामाजिक सरोकारों के सरकार ‘ यूनुस ’

हिमाचली पुरुषार्थ : सामाजिक सरोकारों के सरकार ‘ यूनुस  ’जैसे ही उन्हें शहीद परमजीत के परिवार के बारे में पता चला तो उन्होंने किसी राज्य नहीं बल्कि देश के एक वीर सैनिक की बेटी को गोद लिया। उन्होंने समाज को भी यही संदेश देने की कोशिश की है कि  लोग भी समाज सेवा करें […] विस्तृत....

May 17th, 2017

 
Page 10 of 505« First...89101112...203040...Last »

पोल

क्रिकेट विवाद के लिए कौन जिम्मेदार है?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates