Divya Himachal Logo May 24th, 2017

कम्पीटीशन रिव्यू


लॉर्ड किचनर ने बनाया वाइल्ड फ्लावर हाल

शिमला में कुफरी की तरफ रिज से 9 किलोमीटर की दूरी पर 2498 मीटर की ऊंचाई पर वायसराय आवास से लगभग 200 फुट अधिक ऊंचाई पर वाइल्ड फ्लावर हाल स्थित है। यह 1905 ई. में ब्रिटिश भारतीय सेनाओं के कमांडर-इन-चीफ लार्ड किचनर द्वारा बनाया गया था। वह हठी, अहंकारी व बहुत कड़ा व्यक्ति था…

वाइल्ड फ्लावर हाल

शिमला में कुफरी की तरफ रिज से 9 किलोमीटर की दूरी पर 2498 मीटर की ऊंचाई पर वायसराय आवास से लगभग 200 फुट अधिक ऊंचाई पर वाइल्ड फ्लावर हाल स्थित है। यह 1905 ई. में ब्रिटिश भारतीय सेनाओं के कमांडर-इन-चीफ लार्ड किचनर द्वारा बनाया गया था। वह हठी, अहंकारी व बहुत कड़ा व्यक्ति था। वास्तव में उसने इसका निर्माण वायसराय लार्ड कर्जन के लिए अनुवर्ती घृणा और ईर्ष्या वश करवाया था। किचनर अति खर्चीले तैयार किए हुए महल में अपना दरबार लगाता था, जो उस ने अपने लिए तैयार करवाया था। फर्नीचर में कुछ पुराने ढंग का फ्रांसीसी  फर्नीचर था। स्वतंत्रता के बाद में इस में हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास परिषद  का होटल रहा। साम्राज्य की सत्ता और शान तो जा चुकी है, परंतु वाइल्ड फ्लावर हाल की शान अपनी प्राचीन स्थिति में 5 मार्च, 1993 ई. 8ः30 सायंकाल तक कायम रही, जब इस विनाशकारी आग ने इसे लील लिया।

टिंबर ट्रेल परवाणू

यह राष्ट्रीय उच्च मार्ग- 22 पर स्थित परवाणू से पांच किलोमीटर ऊपर स्थित है। यह हिमाचल प्रदेश में पहला रोचक स्थान है, जहां हजारों यात्री केवल कार में सवार हो कर कौशल्या नाले के ऊपर 1.8 किलोमीटर की दूरी 8 मिनट में तय करने का आनंद लेने के लिए आकर्षित होते हैं। 1992 ई. में यहां एक दुखांत घटना हुई थी, जब टिंबर ट्रेल एक दुर्घटना का शिकार हुई थी।

उदयपुर

पुराने जमाने में यह गांव ‘मरकूल’ के नाम से जाना जाता था इसलिए स्थानीय देवी का नाम मर्कुला देवी है। उस का मंदिर अद्वितीय है और यह अपनी छत व सीलिंग की नक्काशी के लिए बड़ा प्रसिद्ध है। इसका नाम चंबा के राजा उदय सिंह द्वारा बदला गया था। इसलिए यह स्थान मयार घाटी और आगे जांस्कर  तथा दूसरी चोटियों के लिए प्रस्थान बिंदु है। लोसर स्पीति घाटी का पहला बड़ा गांव है, जो लोसर पैन्नो नालों के संगम पर स्थित है। याक और घुड़सवारी यहां अन्य आकर्षण हैं।

टैक्सटाइल पार्क

28 अगस्त, 2012 को ऊना जिला के चिंतपूर्णी में पार्किंग की सुविधा ये युक्त टैक्सटाइल पार्क का शिलान्यास किया गया। चिंतपूर्णी में इस बृहद् पार्किंग सुविधा के लिए 40.21 करोड़ रुपए दिए गए। यहां प्रतीक्षा हाल, धार्मिक  पुस्तकालय, खरीददारी प्लाजा और बुनियादी सुविधाओं से लैस संकुल खोलने की योजना भी बनाई गई है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें !

May 24th, 2017

 
 

सुहाग पिटारी से वधू का शृंगार करती हैं महिलाएं

सुहाग पिटारी में लाए गए वस्त्र- जेवरों आदि से महिलाएं वधू का शृंगार करती हैं। फिर कन्या पिता स्वेच्छा से वर और कन्या को दी जाने वाली शैया पर उन्हें बिठाकर शैया दान करता है, जिसे पहाड़ी में मकलावा, हिंदी में डोली भी कहते हैं… […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

कैरियर रिसोर्स

हरियाणा लोक सेवा आयोग हरियाणा लोक सेवा आयोग द्वारा  निम्न पदों के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। पद – सहायक जिला अटार्नी(ग्रुप-बी)। शैक्षणिक योग्यता – स्नातक लॉ(प्रोफेशनल)डिग्री और बार काउंसिल में बतौर एडवोकेट नामांकन अनिवार्य। आयु सीमा – न्यूनतम 21 वर्ष और अधिकतम 42 वर्ष […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

करियर रिसोर्स

आईटी के क्षेत्र में किस प्रकार के कार्यकलापों पर आधारित जॉब मिल सकती है? — कपिल शर्मा, नाहन आईटी से जुड़ने का मतलब है कि आपके लिए कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर, नेटवर्किंग तथा इन्फार्मेशन सिस्टम मैनेजमेंट के क्षेत्रों में भविष्य निर्माण के विकल्प उपलब्ध होंगे। इनमें से […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

क्‍या आप जानते हैं

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में किस स्थान पर चांदी पाई जाती है? (क) चरागाह                 (ख) कल्पा (ग) पूह                      (घ) पियो हिमाचल प्रदेश के किस जिले में सबसे अधिक औद्योगिक इकाइयां हैं? (क) शिमला में             (ख) कांगड़ा में (ग) सोलन में              (घ) ऊना में जिला […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

सेई कोठी के पास है ‘खोहली खड्ड’ और ‘बैरा खड्ड’ का संगम

सेई कोठी गांव के समीप ‘खोहली खड्ड’ और ‘बैरा खड्ड’ का संगम हो जाता है। इस खड्ड में टोपी धार से प्रवाहित होने वाली ‘शुक्राली खड्ड’ तथा चिल्यूंडा के शिखरों से प्रवाहित होने वाली ‘ढांजू खड्ड’ भी सम्मिलित हो जाती हैं… हिमाचल की नदियां रावी […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

स्थानीय भाषा में जमलू कहा जाता है ऋषि जमदग्नि को

प्राचीन गणराज्यों के स्वरूप आज भी हिमाचल प्रदेश में उसी रूप में विद्यमान हैं। उदाहरण के लिए हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिला में मलाणा जनपद को देखा जा सकता है। मलाणा जमदग्नि ऋषि का गणराज्य या जनपद है। स्थानीय भाषा में ऋषि को जमलू कहते […] विस्तृत....

May 24th, 2017

 

हिमाचली पुरुषार्थ : सामाजिक सरोकारों के सरकार ‘ यूनुस ’

हिमाचली पुरुषार्थ : सामाजिक सरोकारों के सरकार ‘ यूनुस  ’जैसे ही उन्हें शहीद परमजीत के परिवार के बारे में पता चला तो उन्होंने किसी राज्य नहीं बल्कि देश के एक वीर सैनिक की बेटी को गोद लिया। उन्होंने समाज को भी यही संदेश देने की कोशिश की है कि  लोग भी समाज सेवा करें […] विस्तृत....

May 17th, 2017

 

अच्‍छे प्रयोजन का पशुपालन

अच्‍छे प्रयोजन का पशुपालनग्रामीण इलाकों में भी  रोजगार के कई ऐसे क्षेत्र हैं, जिन्हें अपनाकर बेरोजगारी के जाल से निकला जा सकता है। पशुपालन ऐसा ही एक क्षेत्र है, जिसे आज शहरों के पढ़े-लिखे बेरोजगार युवक भी अपनाकर मोटी कमाई कर रहे हैं… बेरोजगारी देश की एक बड़ी […] विस्तृत....

May 17th, 2017

 

जल पुरुष राजेंद्र सिंह

जल पुरुष राजेंद्र सिंहराजेंद्र सिंह का जन्म 6 अगस्त, 1959 को उत्तर प्रदेश के बागपत (मेरठ के समीप) जिला के धौला नामक स्थान पर हुआ। राजेंद्र सिंह की जिंदगी में टर्निंग प्वाईंट तब आया, जब वह हाई स्कूल में शिक्षा ग्रहण कर रहे थे। उन दिनों गांधी पीस […] विस्तृत....

May 17th, 2017

 
Page 2 of 49712345...102030...Last »

पोल

क्या कांग्रेस को हिमाचल में एक नए सीएम चेहरे की जरूरत है?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates