Divya Himachal Logo Apr 26th, 2017

कम्पीटीशन रिव्यू


ईपीएफ

NEWSसरकारी और निजी सेक्टरों ने अपने कर्मचारियों के उनके भविष्य को ध्यान में रखते हुए कई तरह की योजनाएं  चला रखीं हैं ताकि सेवानिवृत्ति के बाद ये कर्मचारी अपनी बाकी की जिंदगी आराम से गुजार सकें और उन्हें किसी भी तरह की मुश्किल पेश न आए। इन्हीं योजनाओं में एक है कर्मचारी भविष्य निधि योजना। कर्मचारी भविष्य निधि ‘ईपीएफ’ भारत के वेतनभोगी व्यक्तियों के लिए सबसे लाभदायक एवं लोकप्रिय निवेशों में से एक है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन भारत सरकार के श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के अंतर्गत कार्यरत वैधानिक निकाय है, जिसका उद्देश्य कर्मचारी भविष्य निधि एवं विविध प्रावधान अधिनियम, 1952 के तहत निर्धारित सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का क्रियान्वयन करना है। इस योजना के अंतर्गत संस्था के कर्मचारियों को भविष्य निधि, पेंशन एवं बीमा संबंधी लाभ प्रदान किए जाते हैं। बीस या इससे अधिक कार्यरत कर्मचारियों वाले सभी संगठनों को भविष्य निधि खाता रखना आवश्यक है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन अपने सदस्यों को पोर्टल के माध्यम से विभिन्न सेवाएं ऑनलाइन प्रदान करता है। इस तरह ये सेवाएं सभी को आसान एवं सुगम तरीके से उपलब्ध करवाई जाती हैं। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ने हाल ही में एक नई सेवा शुरू की है, जिसकी मदद से कर्मचारी अपने भविष्य निधि खाते की राशि एक संस्थान से दूसरे संस्थान में ऑनलाइन स्थानांतरित कर सकते हैं।

अब अगर कोई कर्मचारी अपनी नौकरी बदल कर एक संस्थान से दूसरे संस्थान में जाता है, तो वह अपने भविष्य निधि खाते की राशि के स्थानांतरण के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकता है। यह ऑनलाइन प्रक्रिया एकदम आसान है। भविष्य निधि खाते की राशि के स्थानांतरण की सेवा नियोक्ताओं के लिए भी उपलब्ध है। कर्मचारी एवं नियोक्ता दोनों ही आवेदन करने से पहले स्थानांतरण संबंधी दिशा-निर्देशों को जरूर पढ़ें। संगठन द्वारा अपने सदस्यों को भविष्य निधि से संबंधित कई प्रमुख सेवाएं पहले से ही ऑनलाइन प्रदान की जा रही हैं एवं इस दिशा में और नई पहल की जा रही है, ताकि सरकारी एवं निजी क्षेत्रों में बड़ी संख्या में कार्यरत सभी कर्मचारियों को ये सेवाएं आसानी से उपलब्ध करवाई जा सकें।

April 19th, 2017

 
 

धन- संपदा बेशक मिल जाए पर आनंद विरासत में नहीं मिलता

धन- संपदा बेशक मिल जाए पर आनंद विरासत में नहीं मिलताभले ही हमें धन और संपदा विरासत में मिल जाए, लेकिन जीवन का आनंद हमें कभी भी विरासत में नहीं मिल सकता। उसे तो हमें स्वयं ही प्राप्त करना होगा। हमारी छोटी-छोटी सफलताएं, जीवन में छोटे-छोटे संघर्ष हमारे होने और हमारे अस्तित्व के लिए जरूरी […] विस्तृत....

April 19th, 2017

 

हिमाचली शिक्षा के हर रिकार्ड तक नरेंद्र अवस्थी

हिमाचली शिक्षा के हर रिकार्ड तक नरेंद्र अवस्थीसेवानिवृत्ति के बाद भी डा. अवस्थी रीजनल सेंटर धर्मशाला के छात्रों को इकॉनोमिक्स का अध्ययन करवा रहे हैं। साथ ही अब भारत सरकार अल्पसंख्यक मामले मंत्रालय द्वारा इंस्पेक्टिंग अथोरिटी के रूप में पर्यवेक्षक के पद पर नियुक्त किया गया है। डा. के निरीक्षण में सही […] विस्तृत....

April 19th, 2017

 

राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय मूहल, कांगड़ा

राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय मूहल, कांगड़ामीना कुमारी प्रिंसीपल शिक्षा के ज्ञान के साथ संस्कारों का बीजरोपण संस्कृति और सभ्यता से पहचान करवाती राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला मूहल देहरा उपमंडल के अग्रणी शिक्षा संस्थानों में अपनी अलग पहचान बनाए हुए है। यह शिक्षा की तपोस्थली है। विद्यालय में वर्तमान समय में […] विस्तृत....

April 19th, 2017

 

कैरियर रिसोर्स

हिमाचल प्रदेश लोक सेवा आयोग हिमाचल प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा निम्न पदों के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। पद – असिस्टेंट प्रोफेसर, वैटरिनरी अफसर, साइंटिफिक अफसर, सब- एडिटर। रिक्तियां- 58. शैक्षणिक योग्यता – पदों के अनुसार अलग-अलग निर्धारित। आयु सीमा – उम्मीदवारों की अधिकतम […] विस्तृत....

April 19th, 2017

 

करियर रिसोर्स

मैं इंडियन कोस्ट गार्ड से जुड़ कर करियर बनाना चाहती हूं। महिलाओं के लिए इसमें नौकरी की क्या-क्या संभावनाएं हैं? — भावना वर्मा, बैजनाथ इंडियन आर्म्ड फोर्सेज की सबसे युवा ब्रांच इंडियन कोस्ट गार्ड है। ये हमारी 7615 किमी लंबी कोस्टलाइन की रक्षा करते हैं। […] विस्तृत....

April 19th, 2017

 

ब्यास नदी के किनारे बसे औट और थलौट गांव

ब्यास नदी के किनारे किसी समय औट दो-तीन घरों का और वैसा ही थलौट गांव बसा था। पंडोह क्षेत्र ब्यास नदी, बाखली और जिऊणी खड्डों का संगम स्थल होने से काफी खुला स्थान है, अतः वहां काफी पुराने समय से बस्ती रही है… हिमाचल की […] विस्तृत....

April 19th, 2017

 

भंगाणी में है सिखों और हिंदुओं के धर्मस्थल

स्मारक सिरमौर जिले में स्थित है। यह पौंटा से लगभग 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह हिंदू और सिख दोनों की धार्मिक रुचियों का स्थान है। वहां एक गुरुद्वारा और भद्रकाली को समर्पित दो मंदिर हैं… बीड़ बिलिंग इसे सबसे पहले 1978 ई. […] विस्तृत....

April 19th, 2017

 

कुलिंद थे श्रेष्ठ गणराज्य के पोषक

कुलिंदों को श्रेष्ठ गणराज्य का पोषक माना गया है-कुलिंद्रेने गण पंगवान यूनानी विद्वान टालेमी ने भी उनका उल्लेख किया है। उन्होंने उनके क्षेत्र को कुलिंद्रेने कहा है, जहां से ब्यास, सतलुज और यमुना नदियां निकलती हैं…  प्रागैतिहासिक हिमाचल कुनिंद : हिमाचल प्रदेश से संबंधित प्राचीन […] विस्तृत....

April 19th, 2017

 

साप्ताहिक घटनाक्रम

* पूरे देश में अब पेट्रोल-डीजल की कीमतें रोज तय हुआ करेंगी. ठीक वैसे ही जैसे सोने-चांदी की होती हैं. डेली डायनमिक प्राइसिंग के आधार पर ये कीमतें रोज कम-ज्यादा हो सकती हैं. केंद्र सरकार नई व्यवस्था का परीक्षण देश के पांच शहरों- पुडुचेरी, विजाग, […] विस्तृत....

April 19th, 2017

 
Page 3 of 49012345...102030...Last »

पोल

हिमाचल में यात्रा के लिए कौन सी बसें सुरक्षित हैं?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates