himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

‘ एम्स’

एम्स का पूरा नाम ऑल इंडिया इंस्टीच्यूट्स ऑफ मेडिकल साइंसेज है। इन संस्थानों को राष्ट्रीय महत्त्व के संस्थानों के रूप में संसद के अधिनियम द्वारा घोषित किया गया है। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान या एम्स सार्वजनिक आयुर्विज्ञान महाविद्यालय…

रिसर्च के लिए अहम है पैशन

डा. डीडी गुप्ता फार्माकोलॉजी विभाग आईजीएमसी, शिमला क्लीनिकल रिसर्च में करियर से संबंधित विस्तृत जानकारी प्राप्त करने के लिए हमने डीडी गुप्ता से बातचीत की। प्रस्तुत हैं बातचीत के प्रमुख अंश... क्लीनिकल रिसर्च में करियर के क्या स्कोप हैं? इस…

आयुर्वेद का आधुनिक चेहरा आचार्य बालकृष्ण

बालकृष्ण का जन्म 4 अगस्त,1972 को हुआ। उनकी मां का नाम सुमित्रा देवी और पिता का नाम जय वल्लभ था। उन्होंने संस्कृत में आयुर्वेदिक औषधियों और जड़ी-बूटियों के ज्ञान में निपुणता प्राप्त की और इसका प्रचार-प्रसार किया। उनका जन्म दिवस पतंजलि योगपीठ…

साप्ताहिक घटनाक्रम

* राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश के पांच राज्यों में नए राज्यपालों की नियुक्ति की है। साथ ही केंद्र शासित प्रदेश अरुणाचल प्रदेश में भी नए उपराज्यपाल को नियुक्त किया गया है। सत्यपाल मलिक को बिहार का राज्यपाल बनाया गया है। प्रोफेसर जगदीश…

क्या आप जानते हैं

राष्ट्रीय भारत में किस प्रकार की ऊर्जा का सर्वाधिक उत्पादन होता है? (क) जल विद्युत      (ख) ताप विद्युत (ग) परमाणु विद्युत   (घ) पवन विद्युत प्रथम यूनानी यात्री मैगस्थनीज किस के समय में भारत आया था? (क) अशोक            (ख) चंद्रगुप्त…

ज्वालामुखी में गिरी थी सती की जिह्वा

ज्वालामुखी मंदिर का स्वरूप वैसे तो आधुनिक है, परंतु इस पीठ का प्राचीन होना जलंधर-महात्म्य में वर्णित है। पौराणिक कथा के अनुसार सती की जिह्वा यहीं गिरी थी। इसलिए इसे इक्कावन महाशक्ति पीठों में से एक माना जाता है। इस मंदिर में देवी की कोई…

भारत का इतिहास

प्रक्रिया नियम समिति की बैठकें गतांक से आगे- 11 दिसंबर, 1947 को संविधान सभा के अध्यक्ष ने घोषणा की कि जगजीवन राम, शरत चंद्र बोस, एफआर एंटनी, अल्लादि कृष्णस्वामी अय्यर, टेकचंद, रफी अहमद किदवई जेएडी, सूजा एन गोपाल स्वामी अय्यंगर पुरुषोत्तम…

पुरुषार्थ ही सफलता का सूत्रधार माना जाता है…

पुरुषार्थ कभी व्यर्थ नहीं जाता, बल्कि सफलता का सूत्रधार है पुरुषार्थ। इसके लिए जरूरी है आप हर रोज अपने सपनों के बारे में सोचें और उनको आकार देने के लिए तत्पर हों... आज पूरी दुनिया में उथल-पुथल का दौर चल रहा है, ऐसी स्थितियों में अकसर लोग…

क्या आप जानते हैं

हिमाचल ‘रौरिक कला संग्रहालय’ हिमाचल की किस घाटी में है? (क) सांगला घाटी      (ख) कांगड़ा घाटी (ग) पौंटा घाटी       (घ) कुल्लू घाटी निम्न में कौन सी झील मंडी जिले में स्थित है? (क) कमरूनाग         (ख) चंद्रताल (ग) लामा            (घ) रेणुका…

करियर रिसोर्स

यदि एमबीबीएस या बीडीएस की डिग्री नहीं है, तो चिकित्सा क्षेत्र में क्या-क्या विकल्प हैं। — राजेश शर्मा, ऊना एमबीबीएस एग्जाम में आपका चयन नहीं होता है, तो होम्योपैथी, नेचुरोपैथी, आयुर्वेद, यूनानी और योग जैसे विकल्पों का चयन किया जा सकता है।…

कैरियर रिसोर्स

हिमाचल प्रदेश स्टेट को-आपरेटिव बैंक हिमाचल प्रदेश स्टेट को-आपरेटिव बैंक द्वारा निम्न पदों के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। पद - जूनियर क्लर्क।  शैक्षणिक योग्यता - मान्यता प्राप्त बोर्ड/विश्वविद्यालय से 55 प्रतिशत अंकों के साथ 12वीं पास या…

किरपु राम ने लिया ‘भारत छोड़ो आंदोलन’ में भाग

किरपु राम ने भारत छोड़ो आंदोलन में भाग लिया, जिसके कारण जाहू, जिला हमीरपुर से इन्हें निर्वासति कर दिया गया। उन्हें 1945 ईस्वी में प्रजा मंडल के कार्यों में भाग लेने के लिए जेल में डाल दिया गया। जेल में ही वर्ष 1948 में उन की मृत्यु हो गई...…

डगशाई जेल में हैं 54 कैदी कोठरियां

1849 ई. में 72, 873 रुपए, जो उन दिनों एक बहुत बड़ी राशि समझी जाती थी, से निर्मित डगशाई जेल में 54 कैदी कोठरियां हैं। इनमें वे एकांत कोठरियां भी शामिल हैं, जो प्रकाश की किरण से भी विहीन थीं और जहां कैदी मुश्किल से खड़ा भी नहीं हो सकता था...…

पहाड़ों में भूमिगत जलस्तर गिरने की संभावना नहीं होती

विशेषज्ञों के अनुसार पहाड़ी क्षेत्रों में भूमिगत जल का स्तर गिरने की संभावना नहीं होती। फिर भी एहतियाती कदम उठाए जाने चाहिए। भूमिगत जल के अंधाधुंध उपयोग की छूट देने से न सिर्फ इन इलाकों में कृषि योग्य भूमि के बंजर होने का खतरा है, बल्कि…

कुलिंदों ने अपनाई ‘ गणतंत्र शासन प्रणाली ’

कुलिंदों की ‘गणतंत्र शासन’ प्रणाली थी। उनकी एक केंद्रीय सभा होती थी। उस सभा के सदस्य राजा कहलाते थे और सभापति महाराजा। इससे पता चलता है कि राजा या महाराजा की उपाधि किसी एक व्यक्ति के लिए नहीं, अपितु गणराज्य के महत्त्वपूर्ण स्थानों पर कार्य…
?>