himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

सर्दियों में करें खजूर का सेवन

खजूर को सर्दियों का मेवा कहा जाता है और इसे इस मौसम में खाने के खास फायदे होते हैं। खजूर कई प्रकार के पोषक तत्त्वों से भरपूर होता है। इसमें आयरन और फ्लोरिन भरपूर मात्रा में होते हैं, इसके अलावा यह कई प्रकार के विटामिन्स और मिनरल्ज का बहुत…

फूलगोभी के पौष्टिक गुण

फूलगोभी हमारे रोज के खान-पान में शामिल होने वाली आम सब्जी है, जिसके गुण बहुत व्यापक हैं। मूलतः क्रूसीफेरस  परिवार से आने वाली फूलगोभी का पौधा कई प्रकार के विटामिन, मिनरल्ज, एंटीऑक्सीडेंट्स और फाइटोकेमिकल से भरपूर होता है, जो सामान्य…

आत्मा की व्याकुलता

श्रीश्री रवि शंकर आत्मा की व्याकुलता इस तपस से शांत होती है। जीवन में विरोधाभास सब जगह है, विपरीत साथ में रहते हैं, गर्मी और सर्दी, पर्वत व खाई, हरियाली और हिम, ऐसे कई उदाहरण हैं। गतिशीलता और स्थिरता ऊर्जा के विरोधाभास हैं। यह विरोधाभास ही…

लोहड़ी और खिचड़ी के पकवान

मूंगफली, गजक... और भी बहुत कुछ लोहड़ी की पवित्र अग्नि में रेवड़ी, तिल, मूंगफली, गुड़ व गजक भी अर्पित किए जाते हैं। इस तरह से लोग सूर्यदेव और अग्नि के प्रति आभार प्रकट करते हैं, क्योंकि उनकी कृपा से कृषि उन्नत होती है। सूर्य और अग्नि देव से…

दादी मां के नुस्खे

*  सर्दी होने पर 10 ग्राम तेजपत्ता कूटकर तवे पर सेंक कर रख लें। ऐसे में दो कप पानी में तेजपत्ता का एक भाग, दूध चीनी मिलाकर चाय की तरह उबालें। फिर इसे छानकर दिन में तीन बार सेवन करें। इससे आपको सर्दी से राहत मिलेगी। *  तेजपत्ते को पीसकर इसका…

फायदेमंद है काली चाय

हममें से बहुत से लोगों के दिन की शुरुआत चाय के साथ ही होती है। दूध वाली चाय के अलावा कई लोग काली चाय भी पीना पसंद करते हैं। काली चाय पर हुए एक अध्ययन में पाया गया है कि हर रोज कम से कम 4 कप काली चाय पीने से मोटापा, डायबिटीज  और कैंसर जैसी…

आत्मा की परिपूर्णता

श्रीराम शर्मा आत्मा की परिपूर्णता प्राप्त कर परमात्मा में प्रतिष्ठित होने के दो मार्ग हैं। एक प्रयत्न पूर्वक प्राप्त करना और दूसरा अपने आपको सौंप देना। प्रथम मार्ग में विभिन्न साधनाएं करनी पड़ती हैं, चिंतन, मनन, ज्ञान के द्वारा विभिन्न…

ऐसे करें शिशु की देखभाल

सर्दियों के मौसम में हर किसी को अपनी सेहत का खास ख्याल रखने की आवश्यकता होती है। सर्दी का मौसम आते ही सर्दी, जुकाम जैसी समस्या देखने को मिलती हैं। ऐसी समस्या न हो इसके लिए हर उम्र के लोगों को अपना खास ख्याल रखना होता है, लेकिन जो नवजात शिशु…

आध्यात्मिक दृष्टिकोण

आध्यात्मिक दृष्टिकोण से रोग का अर्थ होता है-  ‘वासना’। रोग का मतलब होता है, जो मनुष्य को दौड़ाए रखे, भटकाए रखे, भरमाए रखे। मानो जो मनुष्य को निश्चित न होने दे, शांत न होने दे। इस शृंखला में ‘स्वस्थ’ शब्द का अर्थ बिलकुल यथार्थ मालूम पड़ता…

व्रत एवं त्योहार

14 जनवरी रविवार, माघ, कृष्णपक्ष, त्रयोदशी, प्रदोष व्रत 15 जनवरी सोमवार, माघ, कृष्णपक्ष, चतुर्दशी 16 जनवरी मंगलवार, माघ,  कृष्णपक्ष, मौनी अमावस्या 17 जनवरी बुधवार,  माघ, कृष्णपक्ष, माघ अमावस्या 18 जनवरी बृहस्पतिवार,  माघ, शुक्लपक्ष, प्रथमा…

ईश्वर सदा शुभ है

स्वामी विवेकानंद गतांक से आगे... एक भी मनुष्य ऐसा नहीं है, जो केवल शुभ की, सुखद अनुभवों की ही अनुभूति प्राप्त करता हो। एक भी मनुष्य ऐसा नहीं है, जो केवल दुःखद भावनाओं की ही अनुभूति प्राप्त करता हो। अभाव और चिंता ही सारे दुःख  और सुख के भी…

मृत्यु क्या है और आत्मा कहां जाती है ?

वैज्ञानिकों का मानना है कि कुछ जानवर, खासकर कुत्ते और बिल्लियां अपनी प्रबल घ्राण शक्ति के बल पर मौत की इस गंध को सूंघने में समर्थ होते हैं, लेकिन सामान्य मनुष्यों को इसका पता नहीं चल पाता... -गतांक से आगे... इसे सूंघने वाली खास किस्म की…

जीवन की असली जरूरत है आनंद

गुरुओं, अवतारों, पैगंबरों, ऐतिहासिक पात्रों तथा कांगड़ा ब्राइड जैसे कलात्मक चित्रों के रचयिता सोभा सिंह पर लेखक डॉ. कुलवंत सिंह खोखर द्वारा लिखी किताब ‘सोल एंड प्रिंसिपल्स’ कई सामाजिक पहलुओं को उद्घाटित करती है। अंग्रेजी में लिखी इस किताब…

अनमोल वचन

* जिस व्यक्ति ने कभी कोई गलती नहीं की, उसने कभी कुछ नया करने की कोशिश  ही नहीं की * जितना कठिन संघर्ष होगा, जीत उतनी  ही शानदार होगी * महानता कभी न गिरने में नहीं है, बल्कि हर बार गिर कर उठ जाने में है * विश्वास वह शक्ति है, जिससे उजड़ी हुई…

कब खुलेगा कैनेडी की हत्या का राज

कहा जाता है कि जब कैनेडी की कार उस शख्स के पास से निकली तो उसने छाता घुमाना शुरू किया। अमरीकी खुफिया एजेंसियों को यह आशंका थी कि शायद यह भी हमलावरों से मिला हुआ था और हत्या के लिए ग्रीन सिग्नल देने का काम कर रहा था... दुनिया के कई रहस्यों…
?>