खांसी के लिए घरेलू उपचार

खांसी यूं तो एक सामान्य बीमारी है, लेकिन यह तकलीफ  बहुत देती है। इसे दूर करने के लिए बाजार में मिलने वाली दवाएं आपको उनींदा बना सकती हैं। इसलिए आप कुछ कारगर घरेलू उपाय भी आजमा सकते हैं। खांसी किसी भी समय हो सकती है। वैसे तो सर्दी, खांसी,…

गेंदा के औषधीय गुण

गेंदा भूमध्य क्षेत्र, पश्चिमी यूरोप एवं दक्षिण-पश्चिमी एशिया में भारी मात्रा में पाया जाता है। यह त्वचा के उपचार में इस्तेमाल होने वाली एक प्राचीन जड़ी बूटी है। इसमें मौजूद कैरोटीनॉयड, ग्लाइकोसाइड, गंध तेल, फैवानॉयड एवं स्टेरोल्स त्वचा पर…

महाराजाधिराज योग

आज के युग में राजा -महाराजा तो होते नहीं, फिर भी  संपूर्ण उच्च सुख-सुविधा प्राप्त व्यक्ति को राजाधिराज ही कहा जा सकता है। यदि हाथ में सूर्य, चंद्र, मंगल, शुक्र तथा शनि  के पर्वत पूर्णतः विकसित हों और इनसे संबंधित सभी रेखाएं पुष्ट,बलवान…

दिशाओं के अनुसार शकुन

शकुन का पूरा फल जानने के लिए यह भी जान लेना जरूरी है कि वह किस दिशा का प्रतिनिधित्व करता है। उदाहरण के लिए पूर्व दिशा में घोड़ा,श्वेत  वस्तु,दक्षिण में शव और मांस ,पश्चिम में कन्या और दही तथा उत्तर में गौ,ब्राह्मण व सज्जन पुरुष अच्छे शकुन…

हथेली में जाल

ऐसे चिन्ह नितांत अशुभ होते हैं, और इनका हथेली में होना व्यक्ति के पूरे जीवन को  गलत तरीके से प्रभावित करता है। हथेली में कहीं भी खड़ी रेखाओं पर आड़ी रेखाएं हों , उसे जाल कहते हैं। यहां पर इस बात को स्मरण रखना आवश्यक है कि हाथ की रेखाएं अथवा…

धरती के नीचे

यह फिलहाल कोई मिथक नहीं, एक विश्वास सा है कि उत्तरी हिमालयी क्षेत्रों में जाने कितने भूगर्भीय शहर बसे हुए हैं। संभावना इस बात की भी अधिक है कि ऐसे शहर अफगानिस्तान में या फिर हिंदुकुश पहाड़ों के नीचे अधिक हैं। इन अनजाने शहरों का पूरा एक जाल…

चमत्कार क्या है?

भगवान बुद्ध का कहना था कि अगर एक बुरा व्यक्ति अचानक धार्मिक और सदाचारी बन जाए तो यह चमत्कार है। वैसे चमत्कार हर धर्म से जुड़ा हुआ है। चाहे वे धर्म के संस्थापक रहे हों अथवा उनके शिष्य, उन्होंने अपने जीवन में कई ऐसे अलौकिक कार्य किए ,जिसे…

रहस्य जो सुलझे ही नहीं

कोयले की करामात-वह जनवरी का महीना था। काफी ठंडक पड़ रही थी जब लंदन में रहने वाले श्री फ्रॉस्ट कोयले का एक बड़ा स्टॉक खरीद कर घर ले आए ताकि सर्दियों में  घर गर्म रख सकें। जल्दी ही उन्हें और उनके परिवार को यह पता चल गया कि यह सामान्य कोयला…

गीता रहस्य

अर्थ हे सब पदार्थों में विद्यमान अग्ने! यह समिधा रूपी ईंधन तेरी आत्मा है। समिधा के द्वारा प्रदीप्त हो और बढ़ा, यहां संसार में हमें भी बढ़ा। हमारे परिवार में बाल-बच्चे उन्नत हों, घर व देश में दुधारू पशु आदि बढ़ें घर, समाज, देश एवं समस्त…

लिंग पुराण

जो जीव भगवान शंकर के आश्रय से उनकी शरणागति को प्राप्त होते हैं, वे भले ही कितने ही महापापी क्यों न हों सद्गति को प्राप्त होते हैं। और शाश्वत पद को प्राप्त करते हैं। लेकिन जो विपरीत आचरण करते हैं वे घोर नरक भोगते हैं। सूत जी से ऐसा सुनकर…

दादी मां के नुस्खे

* नाभि में रोजाना सरसों का तेल लगाने से होंठ नहीं फटते और फटे हुए होंठ मुलायम और सुंदर हो जाते हैं। साथ ही नेत्रों की खुजली और खुश्की दूर हो जाती है। * सवेरे मेथी दाना के बारीक चुर्ण की एक चम्मच की मात्रा से पानी के साथ फंकी लगाने से…

पद्म-पुराण

शिव ने इतने अनेक व्याख्यान सुनाकर कहा कि भगवान के विहार और उनके विहार स्थल का परिचय उनकी कृपा से ही होता है, जब तक जीव में पुरुष का भाव रहता है और उसकी वासना में कलुषता रहती है, तब तक वह भगवान के वास्तविक रूप को नहीं जान पाता। भक्ति के…

श्री वराह पुराण

मुथरा तीर्थ स्थलों में बहुत महत्त्वपूर्ण स्थल है। यहां पर एक केशि स्थल केश असुर के वध से संबंधित है। यहां पर पिंडदान का बहुत माहात्म्य है। इस तीर्थ की यात्रा करने से पाप दूर हो जाते हैं। मथुरा का यह पावन क्षेत्र बीस योजना परिधि के विस्तार…

वायु पुराण

उस समय अश्वमेघ यज्ञ का कार्य जब प्रारंभ हुआ, महषिगण आकर उसमें सम्मिलित हुए, सभी दर्शनार्थी उपस्थित हुए। मधुर स्वर में वेद की ऋचनाओं का गायन होने लगा, हवनीय पशुओं का वध होने लगा। देवों के होता अग्नि में आहुति देने लगे। यज्ञ भाग पाने के लिए…

श्री नारद पुराण

चलते-चलते बालक सगर अपने कुलगुरु वशिष्ठ जी के आश्रम में जा पहुंचा।  वशिष्ठजी ने सगर के मनोभावों को जानकर उसे ऐंद्रास्त्र, ब्रह्मास्त्र, वरुणास्त्र, आग्नेयास्त्र के अतिरिक्त वज्रोपम खडग, धनुष और इन सबसे बढ़कर प्रभावी अपना अमोघ आशीर्वाद देकर…