Divya Himachal Logo Mar 30th, 2017

विचार


बेहतर खिलाड़ी बनने के लिए बहा रहे पसीना

news‘दिव्य हिमाचल’ फुटबाल लीग को लेकर प्रदेशभर के युवाओं में खासा जोश है। मीडिया गु्रप की अनूठी पहल से जहां युवाओं को विश्व के नंबर वन खेल में अपनी पहचान बनाने का मौका मिलेगा, वहीं खेल से उनके अंदर छिपी प्रतिभा भी बाहर आएगी। ‘दिव्य हिमाचल’ की टीम ने जब इस बारे में फुटबाल खिलाडि़यों की नब्ज टटोली तो, उन्होंने कुछ यूं रखी

अपनी राय…

खिलाड़ी का नाम : अभिनंदन

उम्र : 1५ साल

प्रैक्टिसः इंदिरा स्टेडियम में हर रोज करीब दो घंटे

पोजिशन : राईट मिड में सबसे बढि़या खेलते हैं

पसंदीदा खिलाड़ी : नेमार

प्रेरणा : स्वयं

ऊना के फुटबाल खिलाड़ी अभिनंदन बेहतर खिलाड़ी बनने का सपना संजाए हुए हैं। अंडर-14 स्टेट के अलावा अन्य प्रतियोगिताओं में यह खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन कर चुका है। डीएवी स्कूल ऊना में अभिनंदन शिक्षा ग्रहण कर रहा है। हर रोज अपने खेल को निखारने के लिए इंदिरा स्टेडियम ऊना में दो घंटे तक कड़ा अभ्यास करते हैं।  फुटबाल खिलाड़ी बनने के लिए उन्हें किसी से भी प्रेरणा नहीं ली। बल्कि मैदान में कुछ खिलाडि़यों को फुटबाल खेलते देख उनका पूरा ध्यान फुटबाल खेल पर चला गया। पिछले करीब पांच साल से लगातार फुटबाल खेल रहे हैं। अपने खेल को हर दिन बेहतर बनाने में प्रयास में जुटे हुए हैं। ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा करवाई जा रही फुटबाल लीग द्वारा फुटबाल खेल को बढ़ावा देने में अहम भूमिका निभाई जा रही है। अभिनंदन का कहना है कि फुटबाल लीग करवाना एक बेहतर प्रयास है। इससे फुटबाल खिलाडि़यों को प्रतिभा दिखाने का मौका मिलेगा। यदि इस तरह की प्रतियोगिताएं समय-समय पर करवाई जाएं , तो खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं।

नाम : राहुल चौधरी

उम्र : 19  साल

प्रैक्टिस : इंदिरा स्टेडियम में  करीब तीन घंटे

पोजिशनः डिफेंस

पसंदीदा खिलाड़ी : नेमार

प्रेरणा : कोच चंद्रमोहन

ऊना के बैहली मोहल्ला के फुटबाल खिलाड़ी राहुल चौधरी फुटबाल कोच चंद्रमोहन को अपना प्रेरणा स्त्रोत मानते हैं। कोच चंद्रमोहन से प्रशिक्षण प्राप्त कर यह खिलाड़ी अंडर-16, अंडर-19, स्टेट ओपन प्रतियोगिता में भी अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा चुके हैं। करीब दिन करीब दो घंटे तक इंदिरा स्टेडियम ऊना में कड़ा अभ्यास करते हैं। पिछले लगातार पांच साल से फुटबाल खेल की बारीकियां सीख रहे हैं, ताकि अपने खेल को और बेहतर बना सकें। राहुल राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला ऊना में 12वीं कक्षा का छात्र है। डिफेंस के तौर पर राहुल फुटबाल खेल खेलते हैं। कई मैचों में बेहतर प्रदर्शन कर चुके हैं। आगामी भविष्य में फुटबाल खेल में बेहतर प्रदर्शन कर जिला का नाम रोशन करने का सपना संजाए हुए हैं। राहुल का कहना है कि ‘दिव्य हिमाचल’ मीडिया ग्रुप द्वारा जो फुटबाल लीग प्रतियोगिता करवाई जा रही है, यह एक सराहनीय प्रयास है। इससे फुटबाल खिलाडि़यों को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलेगा। इस तरह की प्रतियोगिताएं समय-समय पर करवाई जाएं तो इससे खिलाडि़यों को अपनी प्रतिभा दिखाने का बेहतर मौका मिलेगा।

March 27th, 2017

 
 

जुनून के लिए सुबह-शाम पसीना बहा रहे खिलाड़ी

जुनून के लिए सुबह-शाम पसीना बहा रहे खिलाड़ी‘दिव्य हिमाचल’ फुटबाल लीग को लेकर प्रदेशभर के युवाओं में खासा जोश है। मीडिया गु्रप की अनूठी पहल से जहां युवाओं को विश्व के नंबर वन खेल में अपनी पहचान बनाने का मौका मिलेगा, वहीं खेल से उनके अंदर छिपी प्रतिभा भी बाहर आएगी। ‘दिव्य […] विस्तृत....

March 27th, 2017

 

अपने ही देश में बेगाना न बने नव संवत्

अपने ही देश में बेगाना न बने नव संवत्सुरेश कुमार लेखक, ‘ दिव्य हिमाचल ’ से संबद्ध हैं आगे बढ़ने के लिए अतीत से जुड़ना जरूरी है। कहीं ऊपर चढ़ने के लिए सीढ़ी को जमीन पर ही टिकाना पड़ता है। हवाई जहाज भी उड़ने के लिए पहले जमीन पर ही काफी दूर तक […] विस्तृत....

March 27th, 2017

 

फुटबाल की किक से चांद छूने की चाहत

फुटबाल की किक से चांद छूने की चाहतचलो चलें फुटबाल हो जाए। पैरों से खेले जाने वाले दुनिया के शायद एकमात्र खेल फुटबाल के दीवाने एक ढूंढो तो सौ मिलते हैं। ‘दिव्य हिमाचल’ ने अपने मेगा इवेंट ‘दिव्य हिमाचल फुटबाल लीग’ के जरिए युवाओं में ऐसा जोश जगाया कि पुराने खिलाडि़यों को […] विस्तृत....

March 27th, 2017

 

जुनून का फुटबाल, पसीना बहाते कुल्लू के लाल

जुनून का फुटबाल, पसीना बहाते कुल्लू के लालचलो चलें फुटबाल हो जाए। पैरों से खेले जाने वाले दुनिया के शायद एकमात्र खेल फुटबाल के दीवाने एक ढूंढो तो सौ मिलते हैं। ‘दिव्य हिमाचल’ ने अपने मेगा इवेंट ‘दिव्य हिमाचल फुटबाल लीग’ के जरिए युवाओं में ऐसा जोश जगाया कि पुराने खिलाडि़यों को […] विस्तृत....

March 27th, 2017

 

विस्तृत हो रहा है फलक

डा. नलिनी विभा नाजली साहित्य और कलाएं सूक्ष्म भावाभिव्यक्ति के सशक्त एवं खूबसूरत माध्यम हैं। हाल ही में साहित्य अकादमी नई दिल्ली का वर्ष 2016 का पुरस्कार नासिरा शर्मा को उनके उपन्यास ‘पारिजात’ पर मिलना इस बात की पुष्टि करता है कि साहित्य-क्षेत्र में महिलाओं […] विस्तृत....

March 27th, 2017

 

शिवसेना सांसद या मवाली !

शिवसेना के लोकसभा सांसद रवींद्र गायकवाड़ ने जिस तरह एयर इंडिया के एक अधेड़ अधिकारी के साथ बदसलूकी की, मारपीट की, उनका चश्मा तोड़ दिया और सार्वजनिक तौर पर गालियां देकर अपमानित किया है, बेशक वह हरकत निंदनीय, दंडनीय और घोर शर्मनाक है। सांसद को […] विस्तृत....

March 27th, 2017

 

स्वीडन में भी है बेरोजगारी भत्ता

(डा. चिरंजीत परमार, फल वैज्ञानिक, मंडी) हिमाचल सरकार ने अभी कुछ दिन पहले ही युवाओं को बेरोजगारी भत्ता देने की घोषणा की है। यह निर्णय सही है या गलत, इस बारे में मैं कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता। यह काफी विवाद का विषय है। हां, […] विस्तृत....

March 27th, 2017

 

अब टेस्ट मैच का गवाह

(स्वास्तिक ठाकुर, पांगी, चंबा) वन डे और टी-ट्वेंटी के बाद धर्मशाला में पहली बार टेस्ट मैच हो रहे हैं। कभी सोचा भी न था कि हिमाचल स्टेडियम की वजह से दुनिया में जाना जाएगा और धर्मशाला विश्व के करोड़ों लोगों की आंखों में छा जाएगा। […] विस्तृत....

March 27th, 2017

 

आत्मविश्लेषण के साथ बढ़े यह काफिला

मां के आंचल की तरह ही, शब्द की छाया भी हमारे विचारों-संस्कारों को गढ़ती है। पहचान को परिभाषित करने का जिम्मा भी इसी शब्द के पास होता है। पर न जाने क्या बात है कि शब्दों का यह कोमल संसार, आधी दुनिया के आकलन के […] विस्तृत....

March 27th, 2017

 
Page 5 of 2,029« First...34567...102030...Last »

पोल

क्या भोरंज विधानसभा क्षेत्र में पुनः परिवारवाद ही जीतेगा?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates