Divya Himachal Logo Sep 22nd, 2017

विचार


जान की दुश्मन बनी व्हेल

(पूजा, मटौर )

दिन-प्रतिदिन पहले से ज्यादा खतरनाक साबित हो रही मोबाइल गेम ‘ब्लू व्हेल चैलेंज’ बच्चों की जान की दुश्मन और उनके माता-पिता का जीना हराम कर दिया है। ऑनलाइन गेम ‘ब्लू व्हेल चैलेंज’ कई देशों के लिए समस्या बन गई है। ऑनलाइन चैलेंज रूस से शुरू किया गया है। इस गेम के कारण करीब सौ लोगों की मौत हो चुकी है, लेकिन जब से हिमाचल में इस गेम ने दस्तक दी, हर किसी के अंदर एक डर जैसा बैठ गया है। जैसे ही बच्चा स्कूल या कालेज से घर आता है, माता-पिता का पहला प्रश्न होता है बेटा तुम ने कोई गेम तो नहीं खेली। उसके शरीर को देखने लगते हैं। जनता किस-किस चीज से अपना बचाव करे हर दिन कोई न कोई न समस्या जिस समस्या का अंत मौत ही होता है। इस गेम में बच्चों को 50 दिनों का टास्क दिया जाता है, तो माता-पिता को ध्यान देना चाहिए कि बच्चों के व्यवहार में कोई फर्क तो नही आ रहा है। अगर हम बच्चे के व्यवहार के फर्क को पहचान जाएं, तो हम अपने बच्चे की जान बचा सकते हैं। वैसे देखा जाए तो हम ने यह मुसीबत भी खुद ही मोल ली है। हम बड़ी शान से कहते थे कि देखो मेरा लड़का इतनी छोटी सी उम्र में ही मोबाइल चला लेता है, कम्प्यूटर चला लेता है। यही शेखी आज मुसीबत बन गई है। इस मुसीबत से निकलने का यही एक रास्ता है कि अभिभावक बच्चों के प्रति सतर्क रहें।

September 19th, 2017

 
 

लाल टोपी, हरी टोपी

(प्रेम चंद, सोलन ) जिस हिमाचली टोपी को प्रधानमंत्री अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिला रहे हैं, उसी हिमाचली टोपी पर हिमाचली नेता राजनीतिक रोटियां सेंक रहे हैं। हिमाचल में तो राजनीति करने का बहाना चाहिए, चाहे वह बहाना टोपी का ही क्यों न हो। क्या […] विस्तृत....

September 19th, 2017

 

शब्दवृत्ति

मौत बांटते स्कूल (डा. सत्येंद्र शर्मा, चिंबलहार, पालमपुर ) गुरु के ही इस ग्राम में, हुआ शिष्य का खून, कहां खप गए कायदे, कहां लुटा कानून। धंसी सुरक्षा भाड़ में, नियम रहे नित निचोड, उग्र प्रदर्शन था हुआ, बेकाबू आक्रोश। रेयान महाराजा बने फल रहा […] विस्तृत....

September 19th, 2017

 

दुनिया से गए दिल से नहीं

(सुरेश ) एयर मार्शल अर्जन जैसे योद्धा मरा नहीं करते।  इसे मरना नहीं कहते। देश के लिए जीने-मरने वाले लोग दुनिया से चले जाते हैं, दिल से नहीं। एयर मार्शल अर्जन सिंह ने देश के लिए जो किया,उसे भुलाना आसान नहीं। युद्धों के दौरान उनकी […] विस्तृत....

September 19th, 2017

 

सियासी उम्र का तकाजा

बात पते की कह गए नड्डा। मौका व दस्तूर चुनावी है, तो सियासत अपना हलक साफ करेगी। इसलिए नेताओं की उम्र दराज हो चुकी पांत को विश्राम करने की सलाह देते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा यह भी गिन सकते हैं कि उनकी […] विस्तृत....

September 19th, 2017

 

चैंपियन सिंधु

एक बार फिर खेल के मैदान में भारत के हिस्से खिताबी उपलब्धि दर्ज हुई है। बीते एक लंबे अंतराल में हमने चीन के वर्चस्व को तोड़ा है। अब भारत दुनिया में बैडमिंटन का ‘नया चीन’ बन गया है और पीवी सिंधु उसकी ‘नई तारिका’ है। […] विस्तृत....

September 19th, 2017

 

देवताओं के अस्थायी शिविर में हो पुलिस पहरा

चोरी की वारदातें दिन-प्रतिदिन बढ़ रही हैं। सोना-चांदी और नकदी पर चोर हाथ साफ कर रहे हैं। चालू वित्त वर्ष के नौ महीने में जिला कुल्लू में 22 के करीब चोरियों के मामले पुलिस की फाइल में दर्ज हैं। इसी बीच देवी-देवताओं के मंदिर और […] विस्तृत....

September 18th, 2017

 

वंशवाद के समर्थन से बात नहीं बनेगी

वंशवाद के समर्थन से बात नहीं बनेगीकुलदीप नैयर लेखक, वरिष्ठ पत्रकार हैं यह दुख की बात है कि कांग्रेस अप्रासंगिक हो गई है। अन्यथा देश में धर्मनिरपेक्षता कायम रहती। राहुल गांधी को समझना चाहिए कि उन्हें एक बार फिर धरातल पर काम करना है तथा जनता का मिजाज बदलने के प्रयास […] विस्तृत....

September 18th, 2017

 

टाहलीवाल में गाडि़यां खड़ी करने को जगह तो दो

औद्योगिक क्षेत्र टाहलीवाल में पार्किंग समस्या विकराल रूप धारण कर चुकी है। समय के साथ-साथ औद्योगिक क्षेत्र टाहलीवाल का खूब विस्तार हुआ है। यहां तक कि टाहलीवाल को अब नगर पंचायत का दर्जा मिल चुका है। उद्योगों के विकास के साथ ही टाहलीवाल क्षेत्र के […] विस्तृत....

September 18th, 2017

 

…तो अवैध कब्जे कौन हटाएगा

‘‘उम्मीदों की नींव पर ही सही, इक पुल चाहिए। गांव-शहर से जुड़ें, डग भरने का हमें भी हक चाहिए।’’ मगर विडंबना यही रही कि लगातार उम्मीदों के कई पुल ढह गए और कई सोचे भी न जा सके। भौगोलिक परिस्थितियां सियासत के दृष्टिकोण पर इतनी […] विस्तृत....

September 18th, 2017

 
Page 5 of 2,170« First...34567...102030...Last »

पोल

क्या जीएस बाली हिमाचल में वीरभद्र सिंह का विकल्प हो सकते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates