काम पर लौटे हैवा आपरेटर

निजी संवाददाता, बरमाणा

कोलडैम जलविद्युत परियेजना में हैवा आपरेटरों की हड़ताल रविवार को खत्म हो गई और हैवा आपरेटरों ने रविवार रात से मिट्टी ढुलाई का काम शुरू कर दिया है। हैवा यूनियन के प्रधान प्यार सिंह ठाकुर और अड्डा प्रभारी अशोक ठाकुर ने यह जानकारी देते हुए बताया कि मिट्टी ढुलाई भाड़ा बढ़ाए जाने बारे ठेकेदार कंपनियों और हैवा यूनियन के मध्य हुई बैठक में कंपनियों ने भाड़ा बढ़ाने का आश्वासन दिया है। उसके बाद ही हड़ताल वापस ली गई है, उन्होंने बताया कि कंपनियों के अनुरोध पर 31 अक्तूबर तक का समय दिया गया है और उससे पहले कंपनी को भाड़ा बढ़ाना होगा अन्यथा मिट्टी ढुलाई का कार्य फिर से बंद कर दिया जाएगा। जानकारी के अनुसार मुख्य बांध का निर्माण कर रही आईटीडी कंपनी ने मिट्टी ढुलाई का टेंडर ठेकेदार कंपनियों को दे रखा है, जिसकी अवधि फरवरी तक है। इसलिए आईटीडी का कहना है कि ठेकेदार कंपनियों को फरवरी तक तय भाड़ा के तहत ही ढुलाई करनी होगी। इसी के चलते भाड़ा बढ़ाए जाने बारे वार्ता दो बार फेल हो चुकी है। हैवा यूनियन का कहना है कि आईटीडी कंपनी ठेकेदार कंपनियों को ज्यादा रेट दे रही है, जबकि हैवा आपरेटरों को कम रेट दिया जा रहा है। इनका कहना है कि डीजल, टायर और स्पेयर पार्ट्स के रेट आसमान छू रहे हैं, जबकि ढुलाई भाड़ा बहुत कम मिल रहा है और इससे हैवा आपरेटरों को नुकसान उठाना पड़ रहा है, जिससे रोजी रोटी के लाले पड़ गए हैं।

You might also like