किन्नौर युकां बिफरी

रिकांगपिओ शिक्षा विभाग द्वारा हाल ही में यह फरमान जारी किया कि जिन शिक्षकों के परीक्षा परिणाम बेहतर नहीं होंगे उन शिक्षकों को सजा के तौर पर जनजातीय क्षेत्रों में भेजा जाएगा। सरकार के इस फरमान पर युवा कांग्रेस ने कड़ा ऐतराज जताया है। युवा कांग्रेस के पदाधिकारियों ने प्रदेश शिक्षा विभाग के इस फरमान को गंभीरता से लेते हुए प्रदेश सरकार के प्रति भी कड़ा रोष प्रकट किया है। प्रदेश  युवा कांग्रेस सचिव शांति स्वरूप पंचारस सहित किन्नौर युवा कांग्रेस मीडिया प्रभारी ठाकुर सिंह विष्ट ने शनिवार को संयुक्त बयान में कहा कि अगर प्रदेश सरकार ने इस आदेश को वापस न लिया, तो युकां सड़कों पर उतर कर इसका विरोध करेगी। उक्त युवा नेताओं ने कहा कि भाजपा सरकार ने हमेशा से ही जनजातीय लोगों से भेदभाव किया है।

You might also like