दहेज की बलि चढ़ी बहू

निजी संवाददाता, चंबा

मुख्यालय से सटे मिंडा गांव की एक विवाहिता ने ससुरालियों के जुल्मों सितम से तंग आकर शुक्रवार रात को जहर खाकर अपनी इहलीला समाप्त कर ली। पुलिस ने मृतका की माता की शिकायत पर विवाहिता के सास, ससुर व पति के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें हिरासत में ले लिया है। जिन्हें पुलिस रिमांड हेतु अदालत में पेश किया जाएगा। उधर, पुलिस ने मृतका के शव का पोस्टमार्टम करवाने के उपरांत परिजनों को सौंप दिया है। औहली गांव की रतनी देवी ने पुलिस में दर्ज अपनी शिकायत में कहा है कि उसकी बेटी अनीता की शादी चार-पांच वर्ष पूर्व मिंडा गांव के हेमराज के साथ हुई थी और शादी के बाद से ही दहेज की मांग को लेकर ससुराल वाले उसे तंग कर रहे थे। रतनी देवी का कहना है कि ससुरालियों के जुल्मों से तंग आकर ही उसकी बेटी ने अपनी जान दी है। रतनी देवी ने अनीता की सास, ससुर व पति को उसकी मौत का जिम्मेदार ठहराया है।

पुलिस ने रतनी देवी की शिकायत पर अनीता की सास सविता, ससुर सुखदेव व पति हेमराज के खिलाफ भादस की धारा 304बी व 34 के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस प्रमुख मधुसूदन ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि रतनी देवी की शिकायत पर सदर थाना में मामला दर्ज किया गया है और शिकायत में नामजद आरोपियों को सलाखों के पीछे धकेल दिया गया है।

You might also like