मशोबरा में 24 घंटे होगा इलाज

निजी संवाददाता, मशोबरा

पीएचसी मशोबरा अब 24 घंटे मरीजों के लिए खुली रहेगा व दिन-रात स्वास्थ्य सुविधाएं व प्रसव सेवा का लाभ क्षेत्रवासियों को मिल सकेगा। इस आशय की पुष्टि स्वास्थ्य निदेशक डा. विनोद पाठन ने की।

डा. पाठक ग्राम पंचायत मशोबरा की ग्राम सभा की बैठक में बोल रहे थे। लोगों की आक्रोश भरी शिकायत पर डा. पाठक ने कड़ा संज्ञान लेते हुए कहा कि लापरवाह व ड्यूटी से अनुपस्थित रहने वाले डाक्टर बाहर होंगे। उन्होंने कहा कि यह सुविधा एक सप्ताह के भीतर आरंभ कर दी जाएगी। मुस्कान योजना के तहत अब बुजुर्ग शीघ्र ही बुढ़ापे में चने चबा सकेंगे।

डा. पाठक ने कहा कि मुस्कान के तहत दस हजार डेंचर लगाए जाएंगे। सीएमओ डा. केके रतन ने जननी सुरक्षा योजना को सुचारू रूप से चलाने के लिए लोगों से आह्वान किया। उन्होंने कहा कि अभी भी प्रदेश में 17 जननी प्रति हजार प्रसव के समय ही दम तोड़ देती हैं, जिसे रोकने हेतु अस्पताल में डिलीवरी सुनिश्चित करने को यह योजना मातृ मृत्युदर में कटौती करने में सहायक सिद्ध होगी। उन्होंने जानकारी दी कि अस्पताल में प्रसव करवाने पर बीपीएल महिलाओं को 200 रुपए इनाम के रूप में दिए जाएंगे। इससे पूर्व ग्राम सभा की बैठक में कृषक मित्र चयन हुआ। इसमें मंगतराम वर्मा को कृषक मित्र चुना गया।

इसके अतिरिक्त आय व्यय, संपूर्ण स्वच्छता अभियान, राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना प्लस, दूध गंगा योजना पर चर्चा व जानकारी दी गई। महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना मजदूरों का बीमा भी किया जाएगा, जिस हेतु प्रत्येक जॉब कार्डधारक मजदूर से वार्षिक 100 रुपए लिए जाएंगे। इस अवसर पर प्रधान बालक राम वर्मा, उपप्रधान मंगतराम, वार्ड पंच धर्मलता, एसआर शर्मा व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

You might also like