मिलावटी लगे, तो भर लो सैंपल

कार्यालय संवाददाता, हमीरपुर

त्योहारों का मौसम के शुरू होते ही क्षेत्र का स्वास्थ्य विभाग भी अलर्ट हो गया है। विभाग ने कडे़ आदेश जारी करते हुए मिलावट करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के फरमान जारी कर दिए हैं। सभी जिला खाद्य निरीक्षकों को विभाग ने अलर्ट रहने के आदेश जारी करते हुए दूध से बने सभी पदार्थों एवं अन्य खाद्य वस्तुओं को बनाने वालों पर कड़ी नजर रखने को कहा है। इसके साथ ही खाद्य निरीक्षकों को सैंपल भरने की प्रकिया तेज करने को भी कहा गया है। अगर किसी विक्रेता वस्तुएं गुणवत्ता से परे पाई जाती हैं, तो उसके खिलाफ विभाग नियमानुसार कड़ी कार्रवाई करेगा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी हमीरपुर ने स्वास्थ्य विभाग की तरफ से इस बारे में ताजा आदेश आने की पुष्टि की है।

उल्लेखनीय है के त्योहारों और खास कर दिवाली के आते ही बाजार में दूध से बने खाद्य पदार्थों की खपत बढ़ जाती है। मिठाइयों के साथ दूध, दही, पनीर और खोआ आदि पदार्थ दोगुनी से चार गुनी तादाद में चाहिए होते हैं, लेकिन यह आपूर्ति पूरी नहीं हो पाती है। ऐसे में मिलावट का धंधा भी जोर पकड़ लेता है। वहीं हिमाचल में बडे़ स्तर पर खोआ तैयार न होने के कारण इसकी 90 फीसदी आपूर्ति पंजाब से हिमाचल में होती है। ऐसे में मिलावट की संभावना कही अधिक बढ़ जाती है। पिछले वर्ष भी बडे़ स्तर पर मिलावट के मामले सामने आए थे। इसे देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने इस बार काफी पहले से अपने फील्ड अधिकारियों को इससे निपटने के कडे़ आदेश जारी कर दिए हैं। विभाग द्वारा जारी इन ताजा आदेशों के तहत खाद्य निरीक्षकों को अपने—अपने क्षेत्रों के बाजारों के निरीक्षण संख्या बढ़ाने के आदेश दिए गए हैं। इसके साथ ही उन्हें दूध से बन रही मिठाइयों की जांच करने और जरूरत पड़ने पर उनके सैंपल लेने के लिए कहा गया है। आदेशों में बाहर से आने वाली मिठाइयों एवं अन्य खाद्य पदार्थों की भी जांच करने के आदेश दिए गए हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डीएस चंदेल ने बताया कि त्योहारों के मद्देनजर विभाग ने अलर्ट जारी किया है। उपभोक्ताओं को बचाने के लिए पूरी सख्ती से विभाग काम करेगा। अगर कोई मिलावट करता हुआ या खराब खाद्य वस्तुएं बेचता हुआ पकड़ा गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

You might also like