यात्रियों का हुड़दंग कैमरे में कैद

कार्यालय संवाददाता, ज्वालामुखी

विश्व विख्यात शक्ति पीठ ज्वालामुखी मंदिर में 18 अक्तूबर को रात्रि आठ बजे आरती के लिए बंद किए गए मंदिर को जबरन खोलकर सुरक्षा कर्मियों व गृहरक्षकों से गाली-गलौज, धक्का-मुक्की व दुर्व्यवहार करने वाले 20 यात्रियों की मंदिर में लगे सीसीटीवी कैमरों की वीडियो फुटेज की रिकार्डिंग को ‘सेव’ कर सीडी तैयार कर ली गई है, ताकि यदि जिलाधीश कांगड़ा एवं आयुक्त मंदिर कोई आगामी निर्देश देते हैं, तो वीडियो फुटेज की सीडी काम आएगी। इससे हुड़दंगी यात्रियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी, जिन्होंने लाखों लोगों की आस्थाओं से जुड़े मंदिर की मर्यादाओं को तोड़ने का प्रयास किया है। गौरतलब है कि मंदिर में तैनात तीन गृहरक्षकों व दो सुरक्षा कर्मियों की परवाह किए बिना लगभग 20 यात्रियों का जत्था, जो पंजाब से आया था, ने न केवल आरती के लिए बंद मंदिर के जबरन द्वार खोल दिए, बल्कि ड्यूटी पर तैनात कर्मचारियों से भी दुर्व्यवहार किया। मंदिर परिसर में गाली-गलौज व गुंडागर्दी करके लोगों की धार्मिक भावनाओं को आहत किया। गृहरक्षकों ने उनकी गाडि़यों के नंबर व घटना की सूचना पुलिस को दे दी है। थाना प्रभारी दौलतराम के अनुसार देर से मिली सूचना के बावजूद सभी पुलिस थानों व नाकों में इन गाडि़यों के नंबर लिखवा दिए गए हैं।  अभी तक पुलिस थाना में मामला दर्ज नहीं हुआ है। मंदिर अधिकारी तहसीलदार सुदेश नैयर  ने कहा कि सीसीटीवी की वीडियो फुटेज उनके पास मौजूद है। जिलाधीश कांगड़ा के निर्देश पर ही आगामी कार्रवाई की जा सकती है। उधर, जिलाधीश कांगड़ा आरएस गुप्ता ने कहा है कि यदि घटना में कोई दोषी पाया जाता है, तो कार्रवाई होगी। खाद्य आपूर्ति मंत्री रमेश धवाला ने इस घटना पर दुख प्रकट किया है। बहरहाल रिकार्डिंग को ‘सेव’ कर सीडी तैयार कर ली गई है, ताकि यदि जिलाधीश कांगड़ा एवं आयुक्त मंदिर कोई आगामी निर्देश देते हैं, तो वीडियो फुटेज की सीडी काम आएगी। इससे हुड़दंगी यात्रियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।

You might also like