रैफरल सिस्टम के पक्ष में सहवाग

एजेंसियां, मुंबई

बीसीसीआई भले ही अंपायर के फैसलों की विवादास्पद रैफरल प्रणाली के खिलाफ हो और सचिन तेंदुलकर भी इसके पक्ष में नहीं हों, लेकिन भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने इसका समर्थन किया है। भारत के इस स्टार सलामी बल्लेबाज ने रविवार को कहा कि मैं यूडीआरएस का बड़ा समर्थक हूं। मैं चाहता हूं कि भारत और न्यूजीलैंड सीरीज,भारत तथा दक्षिण अफ्रीका सीरीज में भी यह हो, लेकिन यह मेरे निजी विचार हैं। इस सलामी बल्लेबाज ने कहा कि वह यूडीआरएस का समर्थन करते हैं, क्योंकि अतीत में कई बार वह गलत फैसलों का शिकार हो चुके हैं। वीरू ने कहा कि मुझे दो बार उस समय आउट दिया गया जब मैं नाटआउट था। ऐसी स्थिति में मैं रैफरल की मदद ले सकता था। सहवाग के आदर्श तेंदुलकर लगातार यूडीआरएस का विरोध करते रहे हैं, क्योंकि उन्हें टेक्नोलाजी के फुलप्रूफ होने का भरोसा नहीं है। भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी इसके पक्ष में नहीं हैं, लेकिन राहुल द्रविड़ ने हाल में इसका समर्थन किया था। श्रीलंका के खिलाफ 2008 सीरीज में अच्छा अनुभव नहीं रहने के बाद भारतीय क्रिकेट बोर्ड द्विपक्षीय सीरीज में लगातार इसका विरोध करता रहा है।

You might also like