विस्थापितों की जंग लड़ेगी समिति

दिव्य हिमाचल ब्यूरो, बिलासपुर

भाखड़ा विस्थापितों के मसले पर विस्थापितों तथा आम शहरियों ने कानूनी लड़ाई लड़ने के लिए सर्वदलीय समिति को अधिकृत कर दिया है। यह निर्णय गुरुवार को श्री लक्ष्मीनारायण मंदिर में आयोजित बैठक में सर्वसम्मति से लिया गया। सैकड़ों लोगों ने ध्वनिमत से कहा कि इस लड़ाई में नतीजा जो भी हो, वे सर्वदलीय समिति का हर हाल में साथ देंगे। अध्यक्ष आशीष ढिल्लों ने कहा कि संकट की इस घड़ी में लोगों का इकट्ठा होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि बिलासपुर समस्याओं का पर्याय बन चुका है तथा आने वाला समय भी कोई राहत लेकर नहीं आएगा। पूर्व नप अध्यक्ष तथा कांग्रेसी नेता कमलेंद्र कश्यप ने कहा कि राजनीतिक स्वार्थों को भूल कर बिलासपुर के हितों की रक्षा के लिए एकजुट होकर लड़ना चाहिए। बार संघ प्रधान तेजस्वी शर्मा ने कहा कि 50 साल से विभिन्न सरकारों द्वारा की गई विस्थापितों के हकों की अनदेखी के लिए अब जवाबदेही का समय आ गया है।

बार काउंसिल आफ इंडिया के वरिष्ठ उपाध्यक्ष दौलत राम ने कहा कि कानूनी तौर पर हर कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता उनके साथ हैं। अधिवक्ता प्रवीण शर्मा ने कहा कि बिना आवाज उठाए न्याय की उम्मीद व्यर्थ है। समिति के संयोजक अजय कुमार उपाध्याय ने बताया कि चार अक्तूबर को नगर के सभी विस्थापित दोपहर बारह बजे मंदिर परिसर में एकत्रित होंगे। बैठक को केश पठानिया, आरएल शर्मा, हुसैन अली, नवीन वर्मा, सुरेंद्र गुप्ता व दीपक, चमन गुप्ता, ह्यूमन राइट लॉ नेटवर्क के सदस्य जितेंद्र राणा ने भी अपने विचार रखे।

You might also like