व्यवसाय नहीं, मिशन है पत्रकारिता

जिला संवाददाता, कांगड़ा

मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि मीडिया कर्मियों को निष्ठा, समर्पण, जिम्मेदारी व प्रतिबद्धता के साथ समाज के प्रति अपने कर्त्तव्य का निर्वहन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि मीडिया से जुड़े लोगों को अपनी लेखनी में सकारात्मक दृष्टिकोण अपनाकर संतुलन बनाए रखना चाहिए। मुख्यमंत्री मंगलवार को कांगड़ा जिला प्रेस क्लब भवन के शुभारंभ पर आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आज कड़ी प्रतिस्पर्धा के दौरे में मीडिया अपनी विश्वसनीयता की जंग लड़ रहा है, जिस पर चिंतन की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मीडिया समाज के सजग प्रहरी की भूमिका निभा रहा है, जो नेताओं, अधिकारियों और समाज के प्रमुख लोगों पर कड़ी निगाह रखता है, इस तरह मीडिया पर यह महत्त्वपूर्ण सामाजिक उत्तरदायित्व है कि वह निष्ठा और जिम्मेदारी के साथ अपना कार्य करे। प्रो. धूमल ने कहा कि प्रेस प्रजातंत्र का चौथा स्तंभ है, जो पाठकों को जिम्मेदारी के साथ समाचार और विचार प्रस्तुत कर समाज को बेहतरीन सेवा प्रदान कर रहा है। पेड न्यूज के प्रचलन पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि इससे पत्रकारों की छवि पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता एक व्यवसाय से बढ़कर मिशन है। मुख्यमंत्री ने जिला प्रेस क्लब के सदस्यों को बधाई देते हुए कहा कि नए परिसर के निर्माण से वह अपना कार्य और अधिक सुगमता तथा प्रभावी ढंग से कर पाएंगे। उन्होंने क्लब के संस्थापक अध्यक्ष स्वर्गीय पदमनम त्रिवेदी और पंडित बालकृष्ण शर्मा को श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कांगड़ा में मिनी सचिवालय को पूरा करने के लिए धनराशि प्रदान करने का आश्वासन दिया। मुख्यमंत्री ने नगर परिषद कांगड़ा की अध्यक्ष उर्मिल शर्मा, कांता त्रिवेदी, जिला परिष सदस्य पवन काजल, नगर परिषद अशोक शर्मा, व्यापार मंडल अध्यक्ष पंडित वेद प्रकाश शर्मा, सूचना एंव जनसंपर्क विभाग के उपनिदेशक एएस सकलानी, जिला लोक संपर्क अधिकारी बीआर चौहान को सम्मानित किया। इस दौरान प्रेस क्लब के अध्यक्ष अविनाश कालिया व अन्य पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 11 हजार रुपए का चेक भेंट किया।

You might also like