हिमाचल में ब्रांड की डिमांड

उपभोक्ता बाजार में ऊंचा उछाल

1. प्रदेश के 56 शहरों में ब्रांडेड शो रूम्ज

2. आभूषण बाजार सालाना तीन अरब के करीब

3. हिमाचल की टेली डेंसिटी 60

4. प्रदेश के 60 फीसदी लोगों के पास मोबाइल

5. प्रति व्यक्ति आय पहुंची 49211 रुपए

6. देश में सातवां रैंक

7. क्यारी-कोटगढ़ प्रतिव्यक्ति आय में  अव्वल

हिमाचल में उपभोक्ता बाजार राष्ट्रीय स्तर पर लंबा उछाल लेने लगा है। इसकी मिसाल टेली डेंसिटी से ली जा सकती है। यह घनत्व 60 का आंकड़ा पार करने लगा है। मसलन 100 व्यक्तियों में से 60 के पास फोन सुविधा है। यही नहीं प्रदेश  की प्रतिव्यक्ति आय वर्ष 2009-10 में 49.211 पहुंच चुकी है। शिमला जिला का क्यारी-कोटगढ़ प्रतिव्यक्ति आय की दृष्टि से प्रदेशभर में अव्वल गिना जाता है। अभी तक जो आर्थिक आधार पर सर्वेक्षण किए गए हैं, उनका दावा है कि इस लिहाज से हिमाचल देशभर में तीसरे स्थान पर रहता है। क्यारी-कोटगढ़ में प्रति व्यक्ति आय औसतन 75 हजार के करीब आंकी गई है। वर्ष 2010 के अगस्त में बीएसएनएल के  1342570 उपभोक्ता दर्ज थे, वहीं सितंबर में यह दर बढ़ कर 1441498 हो गई है। बीएसएनएल के ही डब्ल्यूएलएल उपभोक्ताओं की संख्या 85 हजार दर्ज की गई है। इसी वर्ष भारती एयरटेल के अगस्त में 1452709 और सितंबर में 1468592, आइडिया के अगस्त में 320457, सितंबर में 344923, डिशनेट वायरलैस के अगस्त में 646879, सितंबर में 668579, एसटेल के अगस्त में 292126, सितंबर में 311841  जबकि अन्य कंपनियों के 30 हजार के करीब उपभोक्ता दर्ज किए गए। प्रदेश ऑटोमोबाइल मार्केट के क्षेत्र में भी फलने-फूलने लगा है। हर वर्ष 18 से 25 हजार नए वाहन प्रदेश में खरीद किए जा रहे हैं। इनमें सबसे ज्यादा संख्या कारों व दोपहिया वाहनों की है। प्रदेश में अभी तक वाहनों की कुल संख्या चार लाख के लगभग दर्ज की जा चुकी है। औद्योगिक विकास के साथ-साथ हिमाचल की उपभोक्ता मार्केट भी प्रसार करने लगी है। इसी के चलते राष्ट्रीय स्तर की रेस्तरां शृंखलाएं, ब्रांडेड शोरूम, मल्टीप्लेक्स, मीना बाजार व बिल्डर हिमाचल की तरफ आकर्षित होने लगे हैं। उपभोक्ताओं की आर्थिक मजबूती का ही नतीजा है कि सरकारी क्षेत्र का उपक्रम हिमुडा ही अब तक चार हजार से भी ज्यादा यूनिट्स स्थापित कर चुका है। प्रदेश में विकास के क्षेत्र में बढ़ते कदमों के नतीजतन ही ब्रांडेड शोरूम, राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर की होटल शृंखलाएं व रेस्तरां यहां पहुंच चुके हैं। इनमें डोमीनोज, सब-वे, कॉफी कैफेडे, हनी हट, बरिस्ता और अंतरराष्ट्रीय होटल शृंखलाओं में एस्कोट कसौली में जहां पांच सितारा होटल बनाने जा रहा है, वहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर की कंपनी स्किल कुफरी में अंतरराष्ट्रीय स्पा स्थापित करने जा रही है। पर्यटन के क्षेत्र में प्रदेश लंबी छलांग लगा रहा है। सकल घरेलू उत्पाद में पर्यटन 7.9 फीसदी की दर से योगदान जुटा रहा है। हिमाचल के 56 शहरोंं में ब्रांडेड शोरूम, मल्टीप्लेक्स आम देखे जा सकते हैं।

You might also like