कालाअंब में आग ने निगला गत्ता उद्योग

नाहन  — औद्योगिक नगरी कालाअंब के त्रिलोकपुर रोड स्थित गत्ता उद्योग में गुरुवार को अचानक आग लग गई, जिससे करोड़ों रुपए की मशीनरी समेत कच्चा व तैयार माल राख हो गया। सूचना मिलने के बाद भी अग्निशमन विभाग की गाडि़यां समय पर नहीं पहुंच सकीं।  जानकारी के मुताबिक कालाअंब के त्रिलोकपुर रोड स्थित कोरोगेटिड बाक्स बनाने वाले शिवालिक कंटेनर में गुरुवार सुबह करीब पौने चार बजे उस वक्त आग लगी, जब फैक्टरी बंद पड़ी थी। सुबह जैसे ही उद्योग में आग लगी, तो उद्योग परिसर में ड्यूटी पर तैनात सुरक्षाकर्मी व चौकीदार ने उद्योग मालिकों व अग्निशमन विभाग नाहन, नारायणगढ़, अंबाला व यमुनानगर को टेलीफोन परसूचना दी। शिवालिक कंटेनर उद्योग के निदेशक राजीव गुलाटी ने बताया कि सुबह करीब पौने चार बजे आगजनी की सूचना उन्हें सुरक्षा कर्मी ने दी। श्री गुलाटी ने बताया कि सूचना के करीब दो घंटे बाद अग्निशमन विभाग की गाडि़यां मौके पर पहुंचीं, तब तक आग ने भयंकर रूप धारण कर लिया था तथा आधे से अधिक उद्योगराख हो गया था। उगौर हो कि जेनरेटर में करीब 400 लीटर डीजल भरापड़ा था। उद्योग प्रबंधन ने बताया कि आगजनी से उद्योग को 10 से 12 करोड़ रुपए नुकसान का हुआ है। गौर हो कि शिवालिक कंटेनर केडबरी, गोदरेज, पिडिलाइट, आईटीसी व विप्रो जैसी मल्टीनेशनल कंपनियों के लिए कोरोगेटिड बाक्स बनाती है। आगजनी की सूचना मिलते ही उपायुक्त सिरमौर पदम सिंह चौहान, जिला पुलिस कप्तान पुनीता भारद्वाज, एसडीएम नाहन देवेंद्र कंवर, डीएसपी हैडक्वार्टर बबीता राणा पाल तथा डीआईसी के प्रबंधक रमेश वर्मा समेत कई विभागों के अधिकारियों ने घटनास्थल का दौरा किया। एसडीएम नाहन देवेंद्र कंवर ने बताया कि आगजनी के कारण शिवालिक कंटेनर उद्योग पूरी तरह से स्वाह हो गया है। उन्होंने कहा कि कालाअंब में अग्निशमन केंद्र खोलने को लेकर सरकार को अवगत करवाया जाएगा, ताकि भविष्य में आगजनी पर समय रहते काबू पाया जा सके।

You might also like