हिमाचल एक नजर में

1. हिमाचल प्रदेश की स्पीति घाटी में औसतन वार्षिक वर्षा 50 सेंटीमीटर के लगभग होती है।

2. कक्रेर शिखर बिलासपुर जिला का सबसे ऊंचा पहाड़ी शिखर है।

3. डलहौजी, शिमला तथा मंसूरी स्वास्थ्यवर्धक स्थल मध्य हिमालय क्षेत्र में स्थित हैं।

4. क्यारदा दून घाटी की सिंचाई गिरि तथा बाता नदियों के पानी द्वारा होती है।

5. सतलुज नदी प्रदेश के किन्नौर जिले में सर्वप्रथम प्रवेश करती है।

6. पुंग खड्ड और बाणगंगा, ब्यास नदी की सहायक खड्डें या नदियां हैं।

7. प्रदेश का सबसे बड़ा हवाई अड्डा कांगड़ा घाटी में है।

8. चाय का सर्वाधिक उत्पादन कांगड़ा घाटी में होता है।

9. पतलीकूहल ब्यास नदी की सहायक नदी है।

10. ब्यास नदी को सबसे अधिक जल प्रदान करने वाली पार्वती और ऊहल नदियां हैं।

11. वर्तमान समय की गोविंद सागर झील क्षेत्र में पहले लगभग 256 गांव आबाद थे।

12. ब्यास नदी धौलाधार को लारजी नामक स्थान पर काटती है।

13. प्रदेश का ऐतिहासिक ताबो बौद्ध विहार स्पीति घाटी में स्थित है।

14. प्रदेश की सोलहसिंगी धार ऊना जिले में स्थित है।

15. हिमाचल की तिब्बत से लगने वाली अंतरराष्ट्रीय सीमा लगभग 500 किलोमीटर है।

You might also like