और यह भी…

{नरेंद्र सिंह, डलहौजी}

जेबीटी भर्ती पर फिर स्टे लगा। लगता नहीं कि इस जन्म में जेबीटी के 2008-10 के बैच को नौकरी मिले। सरकार तो जेबीटी का एक और बैच बिठा रही है। अगर सरकार संजीदा होती तो ये प्रशिक्षित जेबीटी कब के नौकरी लगे होते, पर ऐसा हुआ नहीं।

You might also like