जुझारूपन एवं सेवाभाव जरूरी

आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में कैरियर की क्या संभावनाएं हैं?

आपदा प्रबंधन का क्षेत्र उन लोगों के लिए है जो साहसिक कार्य करना चाहते हैं कैरियर की संभावनाएं भी इस क्षेत्र में बढ़ी हैं। ऐसे कई राज्य हैं जहां आपदा प्रबंधन के कार्यों की महत्वपूर्ण आवश्यकता है जैसे बिहार बंगाल एवं उड़ीसा, जहां कभी भी बाढ़ का सामना करना पड़ सकता है इसी प्रकार से हिमाचल प्रदेश उत्तराखंड था अन्य पहाड़ी क्षेत्रों में भूस्खलन को देखते हुए आपदा प्रबंधन की महत्वपूर्ण आवश्यकता होती है, किंतु जहां तक कैरियर की बात है तो इसमें पैसा कमाने के साथ सेवा भाव के साथ जाने की आवश्यकता है। कुछ नया करने का साहस जिसमें है उसके लिए आपदा प्रबंधन बहुत बढि़या क्षेत्र हो सकता है।

  आम लोगों को आपदा प्रबंधन के कार्य में किस प्रकार भागीदार बनाया जा
सकता है?

 आपदा प्रबंधन महत्वपूर्ण विषय है जिसके प्रति आम समस्याओं की भांति ही जागरूक होना आवश्यक है। आपदा प्रबंधन की जानकारी सभी को रखनी चाहिए। आम लोगों को आपदा प्रबंधन के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय शैक्षणिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद ने भी अपने पाठ्यक्रम में आपदा प्रबंधन को एक विषय के तौर पर शामिल किया है। यह महत्वपूर्ण प्रयास है इससे नई पीढ़ी में आपदा प्रबंधन के प्रति जागरूकता बढ़ेगी और वे आपदा प्रबंधन को कैरियर के रूप में भी चुनने की ओर बढ़ते हैं।

आपदा प्रबंधन से हमें क्या  जानकारी प्राप्त मिलती है?

आपदा प्रबंधन के द्वारा हम प्रकृति में घटित होने वाली सभी आकस्मिक घटनाओं की पूर्व जानकारी आसानी से प्राप्त कर सकते हैं और उससे निपटने की तैयारी भी कर सकते हैं।

भारत में आपातकालीन प्रबंधन की भूमिका किसके कंधों पर आती है?

 भारत में आपातकालीन प्रबंधन की भूमिका गृह मंत्रालय के अधीनस्थ सरकारी एजेंसी भारतीय राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के कंधों पर आती है।

वर्तमान में आपदा प्रबंधन की जरूरत किन राज्यों में अधिक है।

 वर्तमान में अपदा प्रबंधन  की जरूरत पहाड़ी और बाढ़ सूखा से प्रभावित होने वाले राज्यों को अधिक है।

 

 

You might also like