Daily Archives

Sep 11th, 2012

बहुरी करेगा कब…

मनुष्य जीवन में उतार चढ़ाव आते रहते हंै। जो मनुष्य समय के ज्वार को पकड़ लेता है,वह सौभाग्य के शिखर पर पहुंच जाता है और जो चूक जाता है वह भाटा के दलदल में फंस जाता है। जो व्यक्ति समय के मूल्य को पहचानते हैं,समय पर अपना कार्य करते है वह हमेशा…

कैरियर गाइडेंस

क्या स्नातक डिग्री के उपरांत कम्प्यूटर  हार्डवेयर नेटवर्किंग का कोर्स करना उचित रहेगा? (अमन, नाहन) अगर आपकी रूचि इस विषय में है, तो जरूर यह कोर्स कीजिए। अगर किसी प्रतिष्ठित एवं मान्यता प्राप्त संस्थान से कोर्स करेंगे, तो बेहतर होगा।…

रसराज हैं पंडित जसराज

भारत के सुप्रसिद्ध शास्त्रीय गायकों में पंडित जसराज का नाम विशेषतौर पर उल्लेखनीय है। पंडित जसराज का जन्म 28 जनवरी, 1930 को हिसार (हरियाणा) में एक ब्राह्मण परिवार में हुआ। जसराज का भारतीय शास्त्रीय संगीत के‘मेवाती घराने’ से संपर्क है। जब…

पैसा और सम्मान दोनों देता है संगीत

संगीत के सुरीले स्वरों की विस्तृत जानकारी लेने के लिए हमने गर्वनमेंट कालेज धर्मशाला के संगीत प्रवक्ता सतीश ठाकुर से बातचीत की। प्रस्तुत है बातचीत के प्रमुख अंश...... क्या आज की युवा पीढ़ी संगीत के क्षेत्र में बेहतर कैरियर बना सकती है?…

कैट्स कम्प्यूटर संस्थान धर्मशाला

कैट्स कम्प्यूटर संस्थान,धर्मशाला जिला कांगडा का एक ऐसा कम्प्यूटर संस्थान है,जहां पर शिक्षा ग्रहण कर छात्र शत प्रतिशत रोजगार प्राप्त कर रहे हंै। इस संस्थान ने इक्कीसवीं सदी में सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में हुए  परिवर्तनो के साथ कदमताल…

संगीत में सुरीला कैरियर

भारत में संगीत मनोरंजन का एक साधन मात्र नहीं है, अपितु एक साधना भी है। एक ऐसी साधना जो व्यक्ति को खुद से जोड़ती है और अततः परमेश्वर से भी जोड़ती है। हरिदास को संगीत के जरिए ईश्वर के दर्शन हुए थे और तानसेन अपने संगीत के जरिए प्रकृति को भी…

पुलिस प्रशासन

हिमाचल एक शांति प्रिय राज्य है, जिसमें आपराधिक मामलों की औसत देश के बाकी राज्यों से कम है। प्रदेश में पुलिस प्रशासन का प्रमुख कार्य प्रदेश में कानून व्यवस्था और आंतरिक सुरक्षा बनाए रखना है। 01 दिसंबर, 1949 को पुलिस प्रशासन का विधिवत गठन…

जिला चंबा की पुरुष वेशभूषा

जिला चंबा में पुरुष ऊना चोला, डोरी, ऊनी या सूती सुथण (पायजामा) चमड़े के जूते या चप्पल, सिर पर टोपू, ऊना नोकदार टोपी और सफेद साफा पहनते है। गले में रंगदार, लोक कला से युक्त गलाबद या मफलर भी सहायत वेशभूषा है। चोले और डोरीः चोले और डोरी…

प्रदेश की खनिज संपदा

हिमाचल में अनेक प्रकार के खनिज होते है। इनमेंं चूने का पत्थर, डोलोमाइट युक्त चूने की पत्थर, चट्टानी नमक, सिलिका रेत और स्लेट होते है। यहां लौह अयस्क, तांबा, चांदी, शीशा, यूरेनियम और प्राकृतिक गैस भी पाई जाती है। चट्टानी नमकः चट्टानी नमक…

परिवहन में खामियां

(राकेश कुमार शर्मा, भवारना, कांगड़ा) जबसे नए परिवहन मंत्री ने कार्यभार संभाला है, तब से लेकर परिवहन विभाग का कार्य सुचारू रूप से चला हुआ है, तथा घाटे में भी कमी आई है, परंतु फिर भी कुछ कमियां रह रही हैं, जैसे-  हिमाचल प्रदेश में जितने भी…