Daily Archives

Sep 12th, 2012

अंतरिक्ष में शतक

भारत ने अंतरिक्ष में अपने सौवें अंतरिक्ष मिशन को सफलतापूर्वक अंजाम देकर एक नया इतिहास रचा है। इससे भारत के उन आलोचकों को भी मुंह तोड़ जवाब मिल गया होगा जो भारत जैसे गरीब देश द्वारा ऐसे कार्यक्रमों पर किए जा रहे भारी व्यय पर सवाल उठाते रहे…

सड़कों के खूनी समीकरण

(शगुन हंस, कांगड़ा) इधर मुख्यमंत्री कर्मचारियों को खुश करने के लिए ग्रेड-पे पर मुहर लगा रहे थे, उधर 10 साल पुरानी एचआरटीसी की बस खस्ताहाल सड़क की वजह से 40 लोगों की मौत पर मुहर लगा रही थी। कर्मचारी मुख्यमंत्री की वाहवाही कर रहे थे, उधर…

कार्टून नहीं है देशद्रोह

कार्टून किसी भी आधार पर या कोण से देशद्रोह नहीं माना जा सकता। यह एक रचनात्मक और सामाजिक अभिव्यक्ति है, जिसका भारतीय संविधान ने हमें अधिकार दिया है। हमें बोलने, लिखने और कहने या देश की सत्ता की घोर आलोचना करने का मौलिक अधिकार है, क्योंकि…

हिमाचल का बूढ़ा वर्ग

(कर्नल जसवंत सिंह चंदेल लेखक, कलोल, बिलासपुर से हैं) हिमाचलवासियों को अच्छे संस्कार अपने बड़े बूढ़ों से जरूर मिले हैं, वे अपने बुजुर्गों की देखभाल भी करते हैं, लेकिन संसाधनों की कमी के चलते वे वह सब कुछ नहीं कर पाते हैं, जो वे शायद करना भी…

विकृत मानसिकता प्रदर्शन से बचें

(कुलभूषण उपमन्यु लेखक, चंबा से पर्यावरणविद हैं)  समाज की अपनी-अपनी आस्थाएं होती हैं,, जिनके पीछे हर मामले में तर्कशीलता को कसौटी नहीं बनाया जाता, फिर भी वे आस्थाएं उस समाज की मानसिकता शक्ति को बढ़ाती हैं। उनकी व्यावहारिक अनदेखी करना और…

खुरदरापन

(ज्ञान चंद शर्मा दरवानी, सरकाघाट) आकाश से गिरते उल्कापिंडों और सागर की उत्तुंग उच्छृंखल लहरों को आत्मसात करने की अद्भुत शक्ति है हम सब में अफसोस, मिट्टी के लोंदो की मानिद नित नए-नए चाकों पर चढ़ गड़े जाना नियति हो गई है…

तानाशाह होती राजनीति…

(हेमंत  भार्गव,  अर्की) राजनीति शब्द आज किसी पहचान का मोहताज नहीं है। हमारे राजनीतिज्ञों ने आज राजनीति को इतना रुचिकर विषय जो बना दिया है। आज पढे़ लिख क्या अनपढ़ कहा जाने वाला तबका भी गहरी राजनीतिक समझ रखता है, इसलिए नहीं कि हमारे…

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

शिमला — आंगनबाड़ी वर्कर एवं हेल्पर यूनियन की राज्य कमेटी के आह्वान पर प्रदेश सरकार के आंगनबाड़ी विरोधी नीतियों के खिलाफ व अपनी मांगों के समर्थन में पूरे प्रदेश में आठ अगस्त से प्रोजेक्ट, तहसील व जिला स्तर पर अपनी मांगों के समर्थन में…

डंगा धंसा, चार खोखे मलबे में दफन

शिमला — ऐतिहासिक रिज मैदान के नीचे तिबेतन मार्केट में डंगा धंसने से चार खोखे मलबे के ढेर में दब गए। इस हादसे में हालांकि जान माल का कोई नुकसान नहीं हुआ, लेकिन खोखों के दबने से करीब 15 लाख रुपए का नुकसान हो गया। मलवे से खोखों में रखा…

वर्क टू रूल से 33 रूट प्रभावित

रामपुर बुशहर — परिवहन कर्मियों द्वारा वर्क टू रूल नियम के तहत कार्य करने से पहले ही दिन रामपुर के 33 रूट प्रभावित हो गए, जिसमें 21 रूट रामुपर के व 12 रूट आनी के शामिल हैं। वर्क टू रूल के तहत डिपो के चालक व परिचालकों ने केवल आठ घंटे…