आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने लगाया फंदा

 ऊना- जिला मुख्यालय के निकटवर्ती गंाव मलाहत में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने घर के बाहर फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। विवाहित मृतका अपने पीछे एक सुसाइड नोट भी छोड़ गई है, जिसमें मौत के लिए किसी को भी जिम्मेदार नहीं ठहराया है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी है। शव को ऊना के क्षेत्रीय अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद परिजनों के हवाले कर दिया है। पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मामले को लेकर परिजनों के बयान भी कलमबद्ध किए गए हैं। मुख्यालय के निकटवर्ती गंाव मलाहत में शुक्रवार रात मोहिनी देवी व उसका पति रमेश कुमार (32) खाना खाने के बाद परिवार सहित घर के अंदर सो गए। मृतक का पति जब उठा तो अपनी पत्नी को बिस्तर पर न पाया , जब दरवाजा खोलने का प्रयास किया तो दरवाजा बंद पाया गया। इस दौरान पति ने पड़ोसियों को आवाजें लगाई तो पड़ोसियों ने दरवाजे को खोला और बाहर निकलते ही देखा घर के पास ही पेड़ पर मोहिनी का शव लटकता दिखाई दिया। मामले की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी है। मृतका अपने पीछे अपने पति के अलावा 12 साल का पुत्र व 10  साल की पुत्री को छोड़ गई है। घटना को लेकर गांव मलाहत में विलाप का महौल रहा। एसपी ऊना अनुपम शर्मा ने बताया कि  पुलिस ने मामले में सीआरपीसी की धारा 174 के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

You might also like