Daily Archives

Jan 28th, 2015

सोलन की आबोहवा में ‘जहर’, टीबी फैली

सोलन —  जिला में क्षय रोग तेजी से अपने पांव पसार रहा है। वर्ष 2014 में क्षय रोग के 805 मामले सामने आए हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग द्वारा क्षय रोग निवारण कार्यक्रम के तहत  लोगों को जागरूक किया जा रहा है, जबकि डोट्स प्रणाली के तहत मुफ्त…

नाहन में एड्स पर जगाया अलख

नाहन  — हिमाचल प्रदेश एड्स/एचआईवी रेड रीबन के सौजन्य से नेहरू युवा केंद्र द्वारा एकदिवसीय एचआईवी/एड्स कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में जन शिक्षा स्वयं सूचना अधिकारी जिला सिरमौर प्रोमिला महाजन ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की।…

डुंगी से फूटा बीमारी का बीज

संगड़ाह —  उपमंडल मुख्यालय संगड़ाह के आसपास के गांव में उल्टी-दस्त की चपेट में आने वाले मरीजों का सिलसिला थमता नजर नहीं आ रहा है तथा गांव डुंगी से शुरू हुई उक्त बीमारी की चपेट में गनोग, संगड़ाह, पालर व लगनू आदि के मरीज भी आ चुके हैं।…

मंडे से सेटर्डे तक फ्री होगा इलाज

नालागढ़, बीबीएन —  प्रोमेड फाउंडेशन द्वारा ग्राम पंचायत खेड़ा में स्थापित की गई माता मनसा देवी चैरिटेबल डिस्पेंसरी का श्रमिक कल्याण बोर्ड के चेयरमैन बाबा हरदीप और एसडीएम नालागढ़ ने संयुक्त तौर लोकार्पण किया। प्रोमेड फाउंडेशन द्वारा सीएसआर…

बनोह-खरड़ के नाम चारदीवारी

कुनिहार —  राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कुनिहार में वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान वन मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। वन मंत्री ने इससे पूर्व अर्की तहसील की ग्राम पंचायत बनोह-खरड़…

डा. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कालेज, टांडा

डा. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कालेज टांडा को उत्तर भारत का सर्वश्रेष्ठ चिकित्सा संस्थान बनाने की सरकार की कवायद जारी है। 22 अक्तूबर, 1996 को टांडा में उस समय के व मौजूदा मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने मेडिकल कालेज का नींव पत्थर रखा था तो मकसद यही…

साप्ताहिक घटनाक्रम

*   आईआईटी मुंबई के पूर्व छात्र ने पूरी तरह से हिंदी पर आधारित सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट ‘शब्दनगरी’ को लांच किया। इस वेबसाइट पर उपयोक्ता राष्ट्रभाषा हिंदी में अपनी कहानियां, कविताएं और कमेंट डाल सकते हैं साथ ही अपनी विचारधारा वाले लेखकों और…

समसामयिकी

‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में लड़कियों के साथ भेदभाव रोकने के लिए एक नए अभियान की शुरुआत की है। ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ नाम के इस अभियान का जोर खासतौर से कन्या भ्रूण हत्या को रोकने पर है। इसमें उन जिलों में…