विकास को बनेगी नई उद्यमी योजना

शिमला — मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के युवाओं के कौशल में निखार और उनके लिए स्वरोजगार के नए अवसर उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से शीघ्र ही नई उद्यमी विकास योजना बनाएगी। मुख्यमंत्री शनिवार को शिमला जिला के गुम्मा में जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार युवाओं को 500 करोड़ रुपए की कौशल विकास भत्ता योजना के अंतर्गत भत्ता देने के साथ वाणिज्यिक प्रशिक्षण उपलब्ध करवा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार युवाओं को व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य से भविष्य में और अधिक औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान खोलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारी क्षेत्र में रोजगार के सीमित अवसरों को ध्यान में रखते हुए प्रदेश सरकार युवाओं के लिए स्वरोजगार के अधिक अवसर सृजित करने के उद्देश्य से उनके कौशल विकास पर बल दे रही है। उन्होंने कहा कि दूरदराज और जनजातीय क्षेत्रों के युवाओं को इंजीनियरिंग की पढ़ाई के पर्याप्त अवसर उपलब्ध करवाने के मकसद से ज्यूरी के कोटला में एक नया इंजीनियरिंग कालेज खोला जा रहा है। प्रदेश सरकार राज्य के बेरोजगार युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाने के प्रति कटिबद्ध है और हाल ही में बजट प्रस्ताव में मिशन मोड पर काम करते हुए युवाओं के आवश्यक कौशल उन्नयन से उनके लिए रोजगार के अधिक अवसर उपलब्ध करवाने पर बल दिया गया है। इसी के दृष्टिगत प्रदेश में शीघ्र ही कौशल विकास निगम की स्थापना की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल तीव्र गति से प्रगति के पथ पर अग्रसर है और प्रदेश ने सभी क्षेत्रों में उन्नति दर्ज की है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रदेशवासियों को सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए प्रतिबद्ध है।

You might also like