28 को एक घंटा बंद रखें लाइट्स

 शिमला  —  वर्ल्ड वाइड फंड फार नेचर (डब्ल्यूडब्ल्यूएफ) इंडिया द्वारा 28 मार्च को अर्थ आवर मनाया जाएगा। इस दिन गैर जरूरी रोशनी को बंद कर जलवायु परिवर्तन के खिलाफ एक कदम बढ़ाया जाएगा। डब्ल्यूडब्ल्यूएफ इंडिया की प्रोजेक्ट को-आर्डिनेटर आरती गुप्ता ने कहा कि उक्त अभियान विश्व भर में मनाया जाएगा। उन्होंने प्रदेश वासियों से आह्वान किया है कि उक्त अभियान को सफल बनाने के लिए 28 मार्च को शाम के 8ः30 से 9ः30 बजे तक लोग सभी गैर जरूरी रोशनी को बंद कर  जलवायु परिवर्तन के खिलाफ अपना सहयोग दें। आरती गुप्ता ने कहा कि इस वर्ष अर्थ आवर का थीम इंडिया अन्य रखा गया है और लोगों को इसके प्रति जागरूक करने के लिए रविवार को शिमला व सोलन में साइकिल रैलियां भी निकाली जाएंगी। इन साइकिल रैलियों के द्वारा लोगों को प्रदूषण के खतरों के बारे में और परिवहन के अन्य साधनों, जिसमें पर्यावरण को कम नुकसान हो उसके इस्तेमाल के लिए जागरूक किया जाएगा। इसके अलावा 28 मार्च को रिज पर ग्रीन फेयर, स्कूली बच्चों के लिए चित्रकला व नारा लेखन स्पर्धाएं आयोजित करवाई जाएंगी और शाम के समय गेयटी थियेटर में सांस्कृतिक समारोह व कैंडल मार्च निकाला जाएगा। आरती गुप्ता ने बताया कि राजधानी शिमला में इस वर्ष अर्थ आवर डब्ल्यूडब्ल्यूएफ इंडिया द्वारा नगर निगम शिमला व हिम ऊर्जा के सहयोग से मनाया जाएगा। इस अभियान के तहत शिमला में 28 मार्च को एक घंटे के लिए टाउन हाल व क्राइस्ट चर्च की लाइट्स भी बंद की जाएंगी और वार्डों में जागरूकता के लिए रोड शो आयोजित किए जाएंगे। संस्थाओं का कहना है कि जलवायु परिवर्तन के संतुलन में हमें खुद से शरुआत करनी होगा ताकि समय रहते पर्यावरण को बचाया जा सके।

You might also like