भूकंप पीडि़तों को दें एक दिन की पगार

मंडी  —  भारत के बिहार, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और नेपाल में आए विनाशकारी भूकंप पीडि़तों की मदद के लिए प्रदेश के तमाम कर्मचारियों को आपसी मतभेद भुलाकर आगे आना चाहिए। ये शब्द मंडी में प्रदेश अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के महामंत्री एनआर ठाकुर ने कहे। उन्होंने कहा कि भारत की परंपरा रही है जब किसी पर भी आपदा आए तो लोग उसके सहयोग के लिए आगे आते हैं। अपनी परंपराओं को कायम रखते हुए प्रदेश के तमाम कर्मचारी, जिन्होंने हमेशा देश व प्रदेश हित में काम किया है और मदद के लिए हमेशा अग्रणी माने जाते हैं, अपने एक दिन के वेतन को भूकंप पीडि़तों की सहायता के लिए दान करें। प्रदेश के कर्मचारी सार्वजनिक तौर पर तो इन प्रदेशों व नेपाल जैसे देश में व्यक्तिगत तौर पर मदद करने के लिए नहीं जा सकते, मगर एक दिन का वेतन देकर उनकी आर्थिक मदद करने के साथ-साथ उनके जख्मों पर मरहम लगाने का काम कर सकते हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने नेपाल और भारत के भूकंप पीडि़त राज्यों के लिए जो राहत कार्य शुरू किया है, आज पूरा विश्व उसकी सराहना कर रहा है।

You might also like