सभी बडे़ शहरों में होगा फ्री वाई-फाई

NEWSमंडी— मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने गुरुवार को कहा है कि प्रदेश के सभी बडे़ शहरों में फ्री वाई-फाई की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि अब शिमला, मंडी, धर्मशाला, बिलासपुर, ऊना, हमीरपुर और सोलन जैसे बडे़ शहरों को कुछ समय में फ्री वाई-फाई की सुविधा से लैस किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी नगरों को धीरे-धीरे इस श्रेणी में लाया जाएगा। रोहतांग में डीजल वाहनों के प्रवेश पर एनजीटी द्वारा लगाए गए प्रतिबंध पर मुख्यमंत्री ने कहा कि एनजीटी कायह आदेश व्यावहारिक नहीं है। रोहतांग से ही लाहुल-स्पीति, जम्मू-कश्मीर और लेह-लद्दाख के लिए रास्ता निकलता है, जबकि मनाली से रोहतांग काफी छोटा रास्ता है। इस मामले में प्रदेश सरकार ने एनजीटी में अपना पक्ष रख रही है। उन्होंने कहा कि एनजीटी को ऐसा व्यावहारिक कदम उठाना चाहिए, जिससे पर्यावरण भी सुरक्षित रहे और लोगों को भी दिक्कत न आए। मंडी में पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि हिमाचल सरकार सूबे का एक समान विकास कर रही है। एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि प्रदेश की सड़कों पर घूम रहे पशु हिमाचल के नहीं हैं। सुंदरनगर से मंडी आते हुए उन्होंने देखा की सड़कों पर चल रहे आवारा पशु हरियाणा में पाई जाने वाली नस्लों के हैं। मुझे लगता है कि हिमाचल से जो ट्रक पंजाब-हरियाणा जाते हैं, वे वहां से पशु लेकर आ जाते हैं। इन पशुओं को बाहरी राज्यों से लाकर हिमाचल में छोड़ा जा रहा है। हालांकि प्रदेश सरकार ऐसे सभी आवारा पशुओं के आश्रय के लिए गौसदन बना रही है। ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी सरकार करेगी। एनएच-21 की खस्ता हालत पर मुख्यमंत्री ने कहा कि अब इस मार्ग पर फोरलेन का काम चला हुआ है, लेकिन अभी एनएच-21 से ही यातायात चला हुआ है। ऐसे में जब तक फोरलेन तैयार नहीं हो जाता है, तब तक इसकी मरम्मत का जिम्मा राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण का ही है। इसके लिए कडे़ निर्देश प्राधिकरण को दिए गए हैं। हर वर्ष हिमाचल को नए राष्ट्रीय राजमार्ग मिल रहे हैं, लेकिन जो पुराने हैं, उनकी मरम्मत के लिए केंद्र सरकार बजट नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश को पर्यावरण की दृष्टि से निखारने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। बडे़ होटल, पर्यटकों के लिए सुविधाओं के साथ ही हवाई विस्तार का सरकार प्रयास कर रही है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ आईपीएच मंत्री विद्या स्टोक्स, स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ठाकुर, परिवहन मंत्री जीएस बाली, ग्रामीण विकास मंत्री अनिल शर्मा और आबकारी मंत्री प्रकाश चौधरी उपस्थित रहे।

कैबिनेट में जाएगा वाहनों पर रोक का मामला

सीएम के मंडी दौरे के दौरान रोहतांग में डीजल वाहनों की रोक पर परिवहन मंत्री जीएस बाली ने कहा कि एनजीटी के समक्ष सरकार ने सारे दस्तावेज रख दिए हैं। इसके बाद अब एनजीटी क्या आदेश देती है, उसके इंतजार के बाद मामले को कैबिनेट में ले जाया जाएगा।

You might also like