जिंदगी भर की कमाई पल भर में गंवाई

newsसुंडला — कस्बे के मेन बाजार में रविवार तड़के लगी आग में पीडि़त दुकानदारों ने अपनी जिंदगी भर की जमा पूंजी गंवा दी है। आग की इस घटना में पीडि़त दुकानदारों की आंखों के सामने पल भर में कामकाज का ठिकाना सामान सहित राख के ढेर में तबदील हो गया। इन दुकानदारों को अग्निकांड से मिले जख्मों पर मरहम लगाने को लेकर उपमंडलीय प्रशासन की ओर से भी कोई पहल नहीं हो पाई है। सुंडला बाजार में लगी आग से पीडि़त रमेश कुमार को छह लाख, सुनील को 50 हजार, भगत राम को चार लाख राज सिंह को एक लाख, बिटटू को साठ हजार व किशोरी को सात लाख और मुबारिक अली को 70 हजार रुपए का नुकसान हुआ है। पीडि़त दुकानदारों की मानें तो आग की इस घटना में हुए नुकसान के बाद जहां कमाई का ठिकाना छीन गया है वहीं जिदंगी भर की जमा पूंजी भी स्वाह हो गई है। और साथ ही परिवार के लिए दो वक्त की रोटी का जुगाड़ करना भी चुनौती बनकर रह गया है। उन्होंने बताया कि अब सबसे बड़ी चुनौती कामकाज के लिए ठिकाने का निर्माण रहेगा। उन्होंने बताया कि अग्निकांड से मिले दर्द को बांटने पहुंचे राजनेता व अधिकारियों की ओर से महज आश्वासन मिलने से उनकी दिक्कतें ओर भी बढ़ गई है। उल्लेखनीय है कि रविवार तड़के सुंडला बाजार में आग लगने से सात दुकानें जलकर राख हो गई। रविवार को हुए अग्निकांड में करीब बीस लाख रुपए का नुकसान बताया जा रहा है।

अग्निकांड प्रभावितों की सूची

सुंडला बाजार अग्निकांड प्रभावितों में रमेश पुत्र लीलो वासी गांव गगलू,सुनील पुत्र अमर सिंह वासी गांव प्रंयुगल, भगत राम पुत्र अंगत राम वासी सुंडला, बिटटू पुत्र ज्ञान चंद वासी गांव सुरेला, किशोरी पुत्र भाना और मुबारिक अली पुत्र अनहित मोहम्मद शामिल हैं।

You might also like