मंडी में हुनर से मंत्रमुग्ध

मंडी में हुनर से मंत्रमुग्धमंडी— ‘मिस हिमाचल-2017’ की खोज में बुधवार को ‘दिव्य हिमाचल’ मीडिया ग्रुप का कारवां मंडी पहुंचा। बुधवार को मंडी में हुए ‘मिस हिमाचल-2017’ के ऑडिशन में एक नहीं, बल्कि कई रंग बिखरे। ब्यूटी विद ब्रेन की इस खोज में मंडी व कुल्लू की कई बालाओं ने ‘मिस हिमाचल’ के ताज के लिए अपना दावा पेश किया। ‘मिस इंडिया’ और मॉडलिंग की दुनिया में नाम कमाने के लिए प्रदेश के सबसे बडे़ ब्यूटी इवेंट ‘मिस हिमाचल’ में मंडी के साथ ही कुल्लू की बालाओं ने भी भाग लिया। ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा आयोजित ‘मिस हिमाचल-2017’ के ऑडिशन के लिए सजे विशाल वेन्क्यूट हाल में बालाओं ने न सिर्फ कैटवॉक की, बल्कि डांस, सिंगिंग और एक्टिंग में भी बेहतरीन प्रस्तुतियां दीं। कई बालाओं ने निर्णायक मंडल की फरमाईश पर सिंगिंग के साथ डांस और एक्टिंग में भी प्रतिभा का लोहा मनवाया। ‘मिस हिमाचल-2016’ व मंडी की बेटी आरुषा शर्मा और ‘मिस हिमाचल -2013’ में टॉप फाइव में रहीं शमा ठाकुर ने निर्णायक मंडल की भूमिका निभाई।  ऑडिशन के दौरान सवाल-जवाब का दौर भी चलता रहा। ऑडिशन देने पहुंची प्रतिभागियों ने जजेज के सवालों के बेवाकी से उत्तर दिए। अभिभावकों ने भी ‘दिव्य हिमाचल’ के प्रयासों की सरहाना की। ‘मिस्टर हिमाचल-2016’ के फाइनलिस्ट विशाल राणा ने भी मंडी ऑडिशन में शिरकत की। प्रतिभागियों ने कहा कि अगर मंडी से आरुषा शर्मा ‘मिस हिमाचल’ बन सकती हैं, तो वह क्यों नहीं। ‘मिस हिमाचल-2013’ फाइनलिस्ट शमा ठाकुर ने कहा कि मैं जिस भी मंच पर जाती हूं, ‘दिव्य हिमाचल’ को नहीं भूलती। ‘दिव्य हिमाचल’ के मंच से सफर शुरू कर आज मैं अपने सपनों को साकार कर पाई हूं। ऑडिशन में पंकिता ठाकुर, दिव्या ठाकुर, पूजा ठाकुर, पलविंद्र कौर, प्रियंका, कविता देवी, रितु, सृष्टि सूद, स्पर्वा शर्मा, दामिनी ठाकुर, शालिनी ठाकुर, आर्या सिंह, पायल ठाकुर व प्रियंका वर्मा आदि ने ‘मिस हिमाचल’ बनने का दावा किया। इस अवसर पर ‘दिव्य हिमाचल’ टीम के साथ ही विशाल वेन्क्यूट हाल के एमडी वरुण महंत भी विशेष रूप से उपस्थित रहे।

मॉडलिंग-कैटवॉक पर टिप्स

मंडी में आयोजित ‘मिस हिमाचल-2017’ के ऑडिशन के दौरान निर्णायक मंडल ने युवतियों को मॉडलिंग व कैटवॉक के भी टिप्स दिए। ‘मिस हिमाचल-2016’ व मंडी की बेटी आरुषा शर्मा और ‘मिस हिमाचल -2013’ में टॉप फाइव में रहीं शमा ठाकुर ने निर्णायक मंडल की भूमिका निभाई।  निर्णायक मंडल ने प्रतिभागियों को कहा कि वे मंच पर आकर घबराएं नहीं, बल्कि आत्मविश्वास के साथ ऑडिशन दें।

You might also like