Daily Archives

Dec 16th, 2016

हर जिला में खुलेगा शराब डिपो

आबंटन प्रक्रिया को और मजबूत करने के लिए प्रदेश सरकार ने लिया अहम फैसला हमीरपुर — शराब आबंटन से जूझ रही हिमाचल सरकार ने नोटबंदी के बीच हर जिला में सरकारी डिपो खोलने का बड़ा फैसला लिया है। महज तीन डिपुआें के दम पर प्रदेश भर की हजारों वाइन…

हरेड़ के अक्षय-झनियारा के रजत सेना में लेफ्टिनेंट

प्रदेश के लाड़ले आईएमए देहरादून से पासआउट, फौजी अफसर की वर्दी पहन देश की रक्षा करने का लिया संकल्प  बैजनाथ— उपमंडल के हरेड़ गांव के अक्षय भट्ट ने भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट का पद ग्रहण कर गांव व परिवार का मान बढ़ाया है। अक्षय भट्ट ने आईएमए…

ब्यास पर रातोंरात ही बना डाला डैम

भुंतर— पुल बनाने के नाम पर रातों-रात सदानीरा ब्यास का पानी रोक बांध बनाने का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार नियमों को ताक पर रख एक निर्माण एजेंसी ने टकोली के पास दरिया का पानी रोक दिया और उस पर बांध बना डाला। रोट-पनारसा पुल का सामान…

प्रदेश में कैसे तैयार हो रहे गुरु, जांचेगा दल

एनसीटीई की टीम सभी सरकारी-प्राइवेट संस्थानों में करेगी औचक निरीक्षण धर्मशाला— हिमाचल प्रदेश में भविष्य के अध्यापकों को किस तरह से तैयार किया जा रहा है, इसे जांचने के लिए स्पेशल टीम हर संस्थान का निरीक्षण करेगी। नेशनल काउंसिल फार टीचर…

दुराचारी को सात साल जेल

धर्मशाला की अदालत ने पाया दोषी, 30 हजार जुर्माना भी  धर्मशाला — नाबालिग से डरा-धमका कर दुष्कर्म करने के दोषी को कोर्ट ने सात साल का करावास की सजा सुनाई है। साथ ही दोषी को 30 हजार रुपए जुर्माना भी भरना होगा। गुरुवार को सेशन जज कम स्पेशल जज…

गोली लगने से बच्चे की मौत

नादौन— ज्वालामुखी क्षेत्र की एक पंचायत में बंदूक से गलती से गोली चलने के कारण एक बच्चे की मौत हो गई। इस संबंध में पुलिस को सूचना न देकर बच्चे का आनन-फानन में अंतिम संस्कार कर दिया गया। क्षेत्र में घटना के बारे में कोई भी ग्रामीण कुछ भी…

जिस टूर्नामेंट में जीता सोना, उसी में बख्शो नहीं

ऊना की उड़नपरी को नहीं दी गई प्रतियोगिता की जानकारी, पिछले साल जीता था गोल्ड मेडल ऊना —  प्रदेश भर में उड़नपरी के नाम से मशहूर हुई हरोली क्षेत्र के गांव ईसपुर की गरीब घर की बेटी बख्शो देवी की प्रतिभा को तराशने में खेल विभाग विफल साबित हुआ…

टीएमसी को मिला नेफ्रोलॉजिस्ट

डा. अजय भरयाल देंगे सेवाएं, सरकार ने किए आर्डर शिमला  —  लंबे इंजतार के बाद ही सही आखिरकार टांडा को उसका नेफ्रोलॉजिस्ट मिल गया। टांडा काडर से कमीशन पास करने वाले डाक्टर अजय जरयाल को आखिरकार टांडा भेजने के आर्डर जारी कर दिए गए हैं। दरअसल…