नादौन — प्रदेश के अग्रणी मीडिया ग्रुप ‘दिव्य हिमाचल’ के ‘हिमाचल की आवाज’ सीजन के पहले सेमीफाइनल में जमकर धमाल हुआ। नादौन के श्री साई कालेज ऑफ एजुकेशन में हुए पहले सेमीफाइनल में कांगड़ा तथा ऊना जिला के

एक समय म्यूजिक को मनोरंजन का एकमात्र साधन माना जाता था, लेकिन अब म्यूजिक करियर का बहुत बड़ा विकल्प बन गया है। दरअसल उन दिनों लोग संगीत को हॉबी के रूप में ही ज्यादा अपनाते थे, लेकिन अब भारतीय म्यूजिक इंडस्ट्री की फिजा तेजी से बदल रही है और इसीलिए अब संगीत को हॉबी तक

रेखा शर्मा प्रवक्ता, गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी गर्ल्ज स्कूल, धर्मशाला संगीत में करियर संबंधी विस्तृत जानकारी प्राप्त करने के लिए हमने रेखा शर्मा से बातचीत की। प्रस्तुत हैं बातचीत के मुख्य अंश… आपका स्कूल संगीत का पर्याय कैसे बन गया? स्कूल को 18 बार  जिला स्तरीय और 14 बार राज्य स्तरीय संगीत प्रतियोगिता में विजेता बनाने

प्रसून जोशी का जन्म उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिला के दन्या गांव में 16 सितंबर, 1968 को हुआ। प्रसून हिंदी कवि, लेखक, पटकथा लेखक और भारतीय सिनेमा के गीतकार हैं। वह विज्ञापन जगत की गतिविधियों से भी जुड़े हैं और अंतरराष्ट्रीय विज्ञापन कंपनी मैकऐन एरिक्सन में कार्यकारी अध्यक्ष हैं। बचपन में वह खुद की हस्तलिखित पत्रिका

इतिहास शिमला शहर के रिज के साथ मैदान के साथ ही लक्कड़ बाजार में स्थापित डीएवी सीनियर सेकेंडरी  स्कूल लक्कड़ बाजार, शिमला के प्रतिष्ठित स्कूलों में अपनी एक अलग पहचान रखता है। जहां तक स्कूल के इतिहास और स्थापना की बात की जाए तो डीएवी सीनियर सेकेंडरी स्कूल की स्थापना सन् 1934 में हुई थी।

भारतीय संगीत आधारित है स्वरों और ताल के अनुशासित प्रयोग पर। सात स्वरों के समूह को सप्तक कहा जाता है। भारतीय संगीत सप्तक के सात स्वर हैं- सा(षड्ज), रे(ऋषभ), ग(गंधार), म(मध्यम), प(पंचम), ध(धैवत), नि(निषाद)अर्थात सा, रे, ग, म, प ध, नि सा और प को अचल स्वर माना जाता है। जबकि अन्य स्वरों के और

रूस-तुर्की संबंध नाटो के सदस्य तुर्की ने  सीरियाई सीमा के निकट रूस के एक युद्धक विमान को मार गिराया। इस घटना के बाद रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने तुर्की को चेतावनी दी कि इस घटना का द्विपक्षीय संबंधों पर गंभीर प्रभाव होगा। तुर्की की सेना ने कहा कि विमान ने पांच मिनट में 10

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मंडी(हिमाचल प्रदेश) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मंडी में निम्न पदों के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। पद – जूनियर सुपरिंटेंडेंट, जूनियर लैब असिस्टेंट, जूनियर असिस्टेंट और सीनियर लाइब्रेरी इन्फॉर्मेशन असिस्टेंट। रिक्तियां – 10. शैक्षणिक योग्यता- पदों के अनुसार अलग-अलग। आयु सीमा- 30 से 35 वर्ष(पदों के अनुसार)। आवेदन की अंतिम तिथि- 14

तपोवन  —  तपोवन में चल रहे विधानसभा के शीतकालीन सत्र में पहुंच रहे फरियादियों को मुख्यमंत्री सहित मंत्रियों व विधायकों से भेंट करने के लिए पहले एंट्री पास को लेकर खूब परेशान होना पड़ा। बल्ल बाग तहसील भोरंज के जिला हमीरपुर से पहुंचे शहीद अजय कुमार के पिता रणजीत सिंह को दूसरे दिन मंगलवार दोपहर

बैजनाथ —  मझैरना पंचायत का एक प्रतिनिधिमंडल ओंकार कटोच की अगवाई में आईपीएच मंत्री से स्थानीय विश्राम गृह में मिला। इस अवसर प्रह्लाद कटोच, जमना देवी भी मौजूद थीं। इस मौके पर उन्होंने मंत्री महोदय से मझैरना जल उठाऊ सिंचाई परियोजना की समस्या रखी। ग्रामीणों का कहना था कि इस परियोजना की मरम्मत करने पर