जंजैहली-करसोग में प्रदर्शन

सीबीआई से जांच करवाने की मांग पर अड़े ग्रामीण; सराज के बाजार रहे बंद, सरकार को भेजा ज्ञापन

NEWSNEWSजंजैहली, करसोग— वन मंडल करसोग की मगरू रेंज के कतांडा बीट में तैनात वन रक्षक होशियार सिंह की रहस्यमय मौत के 20 दिन बीतने के बाद लोगों का गुस्सा और रोष जारी है। मंगलवार को जहां इस मामले में सीबीआई जांच की मांग को लेकर करसोग और जंजैहली में सरकार व वन विभाग के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन हुए। वहीं मंडी जिला की सराज विस क्षेत्र के आधा दर्जन बाजारों में व्यापारियों ने दुकानें बंद रखीं और एक बजे तक बाजारों में सन्नाटा पसरा रहा। बाजार बंद रखकर लोगों ने जंजैहली में खूब धरना प्रदर्शन किया और एसडीएम के माध्यम से सरकार को सीबीआई जांच के लिए ज्ञापन भेजा। इसी तरह से करसोग में भी लोगों ने रैली निकाली और सरकार से सीबीआई जांच की मांग की। दोनों जगहों पर लोगों ने साफ कहा कि इस मामले की जांच जब तक सीबीआई से नहीं करवाई जाती है, तब तक लोग शांत नहीं बैठेंगे और अब प्रदर्शन शिमला जाकर भी किया जाएगा। वहीं, होशियार सिंह को न्याय दिलाने के लिए सराज विस के व्यापारियों ने एकजुटता दिखाई। सराज विस के मंगलवार को सराज के थुनाग, जंजैहली, लंबाथाच, जरोल, कुथाह, केलोनाल, संगलवाडा के व्यापरियों ने मंगलवार को अपनी-अपनी दुकानें सुबह नौ बजे से करीब एक बजे तक बंद रखीं। व्यापार मंडल के सदस्य भी जंजैहली में होशियार को इंसाफ दिलवाने के लिए सड़कों पर उतरे। सराज के समस्त बजारों में चार घंटे तक संन्नाटा छाया रहा। जंजैहली बस स्टैंड पर जनसभा को सराज मंच के अध्यक्ष कुनछन लाल,सराज मंच के सचिव नरेंद्र रेड्डी, जगदीश रेड्डी,  पवन कुमार,भीषम कुमार, पद्मदेव बिहारी लाल और महेंद्र राणा ने लोगों ने संबोधित किया। वहीं  मंगलवार करसोग में एक बार फि र महासभा का आयोजन किया गया, जिसके बाद लोगों ने बाजार में रैली निकाल प्रदर्शन किया। न्याय संघर्ष समिति की ओर से जिला परिषद सदस्य श्याम सिंह चौहान ने संबोधित करते हुए कहा कि सुकेत सत्याग्रह में सबसे पहले आंदोलन का बिगुल करसोग क्षेत्र से बजा था व अब ईंमानदारी की मूर्त साबित हो चुके वन रक्षक होशियार सिंह को न्याय दिलवाने के लिए संघर्ष सबसे लंबा चलेगा। करसोग में आंदोलन व प्रदर्शन को प्रदेश ज्ञान विज्ञान समिति अध्यक्ष डा. कुलदीप तनवर ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि होशियार सिंह को प्रताडि़त किया गया और बाद में साजिश के तहत उसे मारा गया है। उन्होंने कहा कि अगर इस मामले की जांच सीबीआई से करवाई जाती है, तभी सारी सच्चाई सामने आएगी। करसोग में प्रदर्शन में शामिल लोगों ने कहा कि जब तक सरकार सीबीआई जांच की सिफारिश नहीं करती है, तब तक आंदोलन जारी रहेगा।

जमानत पर सुनवाई आज

इस मामले में हिरासत में चल रहे छह आरोपियों में से एक बीओ की जमानत याचिका पर बुधवार को फिर से सुनवाई होगी। इस मामले में मंगलवार को भी बीओ चेतराम की जमानत याचिका पर सुनवाई हुई। जिस पर अब बुधवार को फैसला आएगा। वहीं इस मामले में गिरफ्तार गार्ड गिरधारी लाल ने भी अब जमानत याचिका की अर्जी कोर्ट में लगा दी है।

भारत मैट्रीमोनी पर अपना सही संगी चुनें – निःशुल्क रजिस्टर करें !

You might also like