बच्‍चों की सेहत सुधारने को विशेष अभियान

बिलासपुर – सघन दस्त रोग नियंत्रण, खसरा व रूबेला रोग नियंत्रण तथा उप राष्ट्रीय टीकारण के तहत पल्स पोलियो की खुराक पिलाने के लिए जिला भर में विशेष अभियान चलाया जाएगा। इस बाबत शनिवार को अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी विनय कुमार की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया। इसमें स्वास्थ्य विभाग, सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य, शिक्षा, पंचायती राज, नगर परिषद तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों ने भाग लिया। एडीएम ने बताया कि देश में दस्त रोग, निमोनिया, खसरा व रूबेला जैसी गंभीर बीमारियों का समय पर इलाज न करवाने के कारण प्रतिदिन छोटे-छोटे बच्चों की मौतें होती है। उन्होंने कहा कि 12 से 24 जून तक सघन दस्त रोग नियंत्रण पखवाड़ा के दौरान जिला के क्षेत्रीय अस्पतालों, खंड स्तर के प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, आंगनबाडी केंद्रों तथा नगर परिषदों व नगर पंचायत क्षेत्रों के पाचं वर्ष तक के सभी बच्चों को ओआरएस घोल की खुराक पिलाई जाएगी तथा जिंक की गोलीयां भी खिलाई जाएंगी। इसके अतिरिक्त घर-घर जाकर परिवार के सदस्यों को ओआरएस घोल के नियमित रूप से प्रयोग, ओआरएस बनाने की विधि व 14 दिनों तक जिंक की गोलियां खाने के बारे में भी विस्तृत जानकारी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि खसरा व रूबेला रोग की रोकथाम के लिए अगस्त तथा सितंबर महीने में पूरे जिला में टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि देश प्रदेश से इस बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा हिमाचल को द्वितीय फेस में इस अभियान के साथ जोड़ा है।  उन्होंने कहा कि शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल करने के लिए स्वास्थ्य टीमें घर-घर जाकर इस बीमारी के बारे में भी परिवार के सदस्यों को विस्तृत जानकारी देंगी और नौ माह से 15 साल तक के बच्चों का टीकाकरण भी करेंगे, जिसके लिए प्रथम चरण में छह जून को स्वास्थ्य विभाग द्वारा क्षेत्रीय अस्पताल बिलासपुर में सभी स्वास्थ्य कर्मियों, आशा वर्करों तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित किया जा रहा है। बैठक में जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा. परमिंदर, जिला कार्यक्रम अधिकारी वीके शर्मा, जिला पंचायत अधिकारी सतीश अग्रवाल, समस्त खंड चिकित्सा अधिकारी, समस्त सीडीपीओ तथा आईपीएच व नगर परिषद के अधिकारी उपस्थित थे।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें !

 

You might also like