30 तक स्टेशन न छोडे़ं वन अफसर

सुलग रही वन संपदा को बचाने के लिए महकमा अलर्ट

newsहमीरपुर  – आग से सुलग रही वन संपदा के चलते वन विभाग के अफसरों को स्टेशन न छोड़ने की एडवाइजरी जारी की गई है। सरकार ने फोरेस्ट डिपार्टमेंट के वन रक्षक से लेकर डीएफओ तक को किसी भी सूरत में स्टेशन न छोड़ने के आदेश जारी किए हैं। लिखित आदेशों में कहा गया है कि राज्य का कोई भी वन अधिकारी-कर्मचारी 30 जून तक अपने स्टेशन से बाहर न जाएं। आदेशों में कहा गया है कि अवकाश के दिन भी विभागीय कर्मचारी- अधिकारी अपना स्टेशन नहीं छोडे़ंगे। राज्य सरकार के ये आदेश 30 जून तक जारी रहेंगे। जाहिर है कि मौसम के बदले मिजाज के कारण इस बार प्रदेश में बारिश बहुत कम हुई है। इसी कारण प्रदेश की वन संपदा धू-धू कर जल रही है। हर रोज प्रदेश में लग रही जंगलों में आग के चलते अब सरकार ने वन विभाग के अधिकारियों-कर्मचारियों की छुट्टियां पूरी तरह से बंद कर दी हैं। पीसीसीएफ बिलासपुर से जारी लिखित आदेशों में कहा है कि कोई भी अधिकारी-कर्मचारी अगले 30 जून तक अपना स्टेशन नहीं छोड़ेगा। आदेशों में कड़ी हिदायत दी है कि रविवार के अवकाश तथा अन्य सरकारी छुट्टियों के दौरान भी फोरेस्ट गार्ड से लेकर डीएफओ तक सभी विभागीय अधिकारी-कर्मचारी अपने स्टेशन पर बने रहेंगे। विशेष परिस्थितियों में स्टेशन छोड़ने पर अपने उच्च अधिकारियों को सूचित कर अनुमति लेना जरूरी होगी। बताते चलें कि 15 अप्रैल से 30 जून तक गर्मियों में आगजनी की संभावना रहती है। इस समय में वन विभाग के कर्मचारियों की छुट्टियां बंद कर दी जाती हैं। बावजूद इसके इस साल छुट्टियों के साथ अधिकारियों-कर्मचारियों को अपना स्टेशन न छोड़ने की भी कड़ी हिदायत दी गई है। इस बार प्रदेश में 600 से ज्यादा आग लगने के मामले अब तक दर्ज हो चुके हैं। इनमें लाखों रुपए की वन संपदा स्वाह हो चुकी है और दो हजार से अधिक हेक्टेयर की वन भूमि धू-धू कर जल चुकी है। मौसम की बेरुखी के चलते अगले एक माह तक यह सिलसिला बरकरार रहने की उम्मीद है।

भारत मैट्रीमोनी पर अपना सही संगी चुनें – निःशुल्क रजिस्टर करें !

You might also like