पहले दिन बुलाए 263 छात्र

By: Jul 19th, 2017 12:01 am

एचपीयू में एमबीबीएस-बीडीएस के लिए काउंसिलिंग शुरू

शिमला  – हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय ने वर्ष 2017 के लिए नीट यूजी-2017 परिणाम के आधार पर एमबीबीएस/ बीडीएस कोर्स के लिए प्रदेश की मैरिट के आधार पर मंगलवार को पहले चरण की काउंसिलिंग प्रक्रिया करवाई। विवि के सभागार में सुबह दस बजे से ही काउंसिलिंग प्रक्रिया शुरू कर दी गई थी। विवि की ओर से गठित 11 सदस्यीय काउंसिलिंग कमेटी ने स्टेट मैरिट के आधार पर काउंसिलिंग प्रक्रिया शुरू की। सैकड़ों की संख्या में छात्र काउंसिलिंग में भाग लेने के लिए एचपीयू पहुंचे। विवि ने पहले दिन 263 छात्रों की काउंसिलिंग करवाई। इसमें तय शेड्यूल और श्रेणी के आधार पर उम्मीदवारों को काउंसिलिंग के लिए बुलाया गया था। विवि की ओर से कुलसचिव भी काउंसिलिंग प्रक्रिया में उपस्थित रहे। एचपीयू की ओर से प्रदेश के 5215 छात्रों की मैरिट लिस्ट एमबीबीएस/ बीडीएस के लिए जारी की गई है। पहले दिन मंगलवार को काउंसिलिंग का पहले चरण में सभी की सामान्य संयुक्त मैरिट श्रेणी में (सामान्य व आरक्षित) वर्ग के एक से 200 तक उम्मीदवार और शारीरिक रूप से विकलांग में एक से चार, तिबेतन रिफ्यूजियों के बच्चे एक से चार और एनआरआई एक से 55 रैंक के लिए काउंसिलिंग की प्रक्रिया करवाई गई। देर शाम तक काउंसिलिंग का दौर विवि में चलता रहा। काउंसिलिंग में पहले दिन हाई मैरिट के उम्मीदवारों को सरकारी मेडिकल कालेजों में पसंद के आधार पर प्रवेश दिया गया। विवि में 18 जुलाई से 21 जुलाई तक एमबीबीएस, बीडीएस कोर्स के लिए पहले चरण की काउंसिलिंग प्रक्रिया चलेगी, जबकि दूसरे चरण की काउंसिलिंग प्रक्रिया 23 से 26 जुलाई तक चलेगी। विवि सभी सरकारी और निजी मेडिकल कालेजों में तय सीटों पर मैरिट के आधार पर काउंसिलिंग की प्रक्रिया पूरी करेगा।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App