आजादी पर आजाद होंगे चार कैदी

By: Aug 12th, 2017 12:01 am

जेल में बेहतर आचरण करने वाले 495 बंदियों की सजा कम

शिमला — प्रदेश सरकार ने बेहतर आचरण वाले जेलों में बंद कैदियों की सजा कम की है। स्वतंत्रता दिवस के उपल्क्षय में सरकार ने यह फैसला किया है। राज्य में 495 कैदियों को इसका लाभ मिलेगा, इन कैदियों की सजा तीन माह से पंद्रह दिन तक कम होगी। इनमें से चार कैदियों को इसका लाभ देते हुए 15 अगस्त को रिहा किया जाएगा। प्रदेश सरकार हर साल स्वतंत्रता दिवस पर हर साल बेहतर आचरण वाले कैदियों की सजा कम करती है।  इन कैदियों की सजा तीन माह से 15 दिन तक कम की गई है। मौजूदा समय में राज्य की विभिन्न जेलों में करीब एक हजार कैदी हैं, जिनमें से 495 कैदियों की सजा कम की गई है। यानी जेलों में सजा काट रहे आधे कैदी बेहतर आचरण वाले हैं। उल्लेखनीय है कि जेल विभाग जेलों में रह रहे सभी कैदियों के आचरण का पूरा ब्यौरा तैयार करता है। इसके तहत देखा जाता है कि कैदी किस तरह का व्यवहार करते हैं। कई बार देखा गया है कि ऐसे लोगों से अपराध हो जाता है, जो कि आदतन अपराधी नहीं होते, बल्कि गलती से अपराध कर जाते हैं। कुछ लोग जेलों में सुधर जाते हैं। जेल विभाग की ओर से भी इन लोगों को सुधरने का मौका दिया जाता है। ऐसे में जेलों में ये कैदी बेहतर आचरण करते हैं। यह ध्यान रखने वाली बात है कि बेहतर आचरण वाले कैदियों की सजा को कम करने की सीमा भी मात्र तीन माह तक ही सीमित है। इस तरह ऐसे कैदी जिनको दस साल से अधिक की सजा हुई हो और जिनका आचारण बेहतर रहा है, उनकी सजा तीन माह तक कम की गई है। पांच से दस साल तक की सजा वाले कैदियों की सजा दो माह कम की गई है। तीन से पांच साल तक की सजा वाले कैदियों की सजा 45 दिन, एक से तीन साल तक सजा वाले कैदियों की सजा 30 दिन और तीन माह से एक साल की सजा वाले कैदियों की सजा 15 दिन कम की गई है। पुलिस महानिदेशक सोमेश गोयल ने खबर की पुष्टि की है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App