रावण को एक दिन की लाइफ लाइन

newsहमीरपुर  —  शहर में रावण को एक दिन का जीवनदान मिल गया है। यहां पर अवकाश वाले दिन ही रावण को जलाए जाने की प्रथा है। रविवार शाम को रावण, मेघनाद व कुंभकर्ण के पुतला का दहन होगा। इसके अलावा पूरे जिला में दहशरा पर्व शनिवार को मनाया गया है। शनिवार को रावण, मेघनाद व कुंभकर्ण के पुतले जलाए गए, वहीं इसके विपरीत हमीरपुर शहर में दशहरा रविवार शाम छह बजे होगा। रविवार को शहर की पूरी मार्केट बंद रहती है। इसी के चलते रविवार के दिन ही दशहरा मनाया जाता है। पिछले वर्ष भी रावण को करीब पांच दिन का जीवनदान मिला था। बताते चलें कि हमीरपुर शहर में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए हमीरपुर दशहरा कमेटी ने रविवार को दशहरा पर्व मनाने का निर्णय लिया है। इसके अलावा अन्य सभी दिनों बाजार की दुकानें खुली रहती हैं। ऐसे में कई दुकानदार इस पर्व को सही ढंग से नहीं मना पाते। ऐसे में यहां पर रावण दहन का कार्य्रकम संभव नहीं हो पाता। बाल स्कूल मैदान में 30 फुट के रावण का दहन होगा।

पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल होंगे मुख्यातिथि

रविवार को मनाए जाने वाले दशहरा पर्व के मुख्यातिथि पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल होंगे। रविवार के दिन शहर की सभी दुकानें लगभग बंद होगी। शहर के दुकानदार इस पर्व को हर्षोल्लास के साथ मनाएंगे।

You might also like