चलाली में एनएच हादसे का घर

देहरा गोपीपुर   —  रानीताल-मुबारिकपुर नेशनल हाई-वे पर चलाली गांव के नजदीक सड़क का एक बड़ा हिस्सा पिछले काफी समय से ध्वस्त हो चुका है। नेशनल हाई-वे होने के कारण यहां ट्रैफिक इतना अधिक है कि हर वक्त किसी बड़ी दुर्घटना का डर बना रहता है। ध्वस्त हो चुके इस मार्ग पर विभाग ने अभी तक कहीं कोई सावधानी वाला बोर्ड तक नहीं लगाया है, न ही दुर्घटना रोकने के पुख्ता इंतजाम किए है।  हैरानी की बात यह है कि धर्मशाला से जालंधर या चंडीगढ़ के लिए पूरे जिला कांगड़ा का ट्रैफिक इसी रास्ते से गुजरता है । लोगों ने बताया कि इस सड़क को ध्वस्त हुए कई माह हो चुके हैं पर विभाग न जाने क्यों इसे अनदेखा कर रहा है। सामाजिक संस्था युवा सहायक समिति ने इस बारे में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को पत्र लिखा है व साथ में

सड़क की खस्ताहालत की फोटो भी भेजी है।

You might also like