प्रदेश में खुलेंगे क्रिकेट के 70 सब-सेंटर

क्रिकेट एसोसिएशन सभी केंद्रों के लिए जल्द करवाएगी टेंडर

बिलासपुर —  क्रिकेट प्रेमियों के लिए अच्छी खबर है, क्योंकि अब जल्द ही हिमाचल प्रदेश में क्रिकेट के 70 सब-सेंटर स्थापित होने जा रहे हैं। इसके लिए हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। सब-सेंटर खोलने के पीछे मंशा यही है कि गांव में छिपी प्रतिभाओं को निखारा जाएगा। यहीं नहीं, अब हर जिला में कम से कम तीन से चार सेंटर क्रिकेट के होंगे। इसमें दो से तीन क्रिकेट कोच व अन्य मैन पावरों के साथ क्रिकेट मैदान और क्रिकेट प्रेमियों को बेहतरीन प्रशिक्षण दिया जाएगा। बिलासपुर क्रिकेट संघ के सचिव विशाल जगोता ने बताया कि हिमाचल प्रदेश में दूरदराज के खिलाडि़यों को क्रिकेट अकादमी में आने के लिए भारी परेशानी का सामना करना पड़ता था। हालांकि प्रदेश के सभी जिलाओं में हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन की अपनी अकादमी है, परंतु दूरदराज क्षेत्र के खिलाडि़यों को इन अकादमियों तक पहुंचने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती थी। इससे खिलाडि़यों को स्पेशल अपने घरद्वार से दूर रहकर रहना पड़ता था, जिससे खिलाडि़यों के ज्यादा पैसा व्यय होते थे। इस दौरान इस तरह की दिक्कतों को मद्देनजर रखते हुए हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन ने अब पूरे प्रदेश में सभी स्थानों पर 70 सब-सेंटर खोलने का निर्णय लिया है। अभी तक प्रदेश के कुछ जिलों में ही एचपीसीए ने स्थान चिन्हित किए हैं, परंतु जल्द ही  अधिकारियों के हिमाचल दौरे में सभी जिलों में स्थान चिन्हित कर दिए जाएंगे। वहीं बिलासपुर जिला की बात करें तो घुमारवीं, कोठीपुरा, जुखाला और बरठीं में सब-सेंटर स्थापित किए जाएंगे। इसके लिए एचपीसीए ने जगह भी चिन्हित कर ली है और इन स्थानों में क्रिकेट मैदान बनाने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। साथ ही क्रिकेट कोच, फिटनेस कोच, जिम कोच व अन्य प्रशिक्षणों के लिए कोच के पद भरे जाएंगे।

लुहूण में बनेगा पैवेलियन

विशाल जगोता सचिव एचपीसीए बिलासपुर ने बताया कि बिलासपुर में एक ही पैवेलियन है, परंतु अब लुहणू मैदान में अंतरराष्ट्रीय स्तर का पैवेलियन तैयार किया जाएगा। इसके लिए तकरीबन 10 करोड़ का बजट पास हुआ है और जल्द ही इस पैवेलियन को बनाने के लिए टेंडर प्रक्रिया आरंभ की जाएगी।

You might also like