मेधावियों पर बरसे इनाम

डीएवी स्कूल घुमारवीं में धूमधाम से मनाया वार्षिक समारोह

घुमारवीं — डीएवी सीनियर सेकेंडरी स्कूल घुमारवीं में बुधवार को वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह हर्षोल्लास से मनाया। समारोह में स्कूल के मेधावी बच्चों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया। स्कूली बच्चों ने सांस्कृतिक रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत कर समां बांधा। इस दौरान बेडु पाको बारा मासो गढ़वाली नाटी पर स्कूली बच्चों ने बेहतरीन प्रस्तुति देकर वाहवाही लूटी। बच्चों ने पंजाबी-पहाड़ी सहित अन्य प्रस्तुतियां देकर उपस्थित लोगों का मन मोहा। प्रधानाचार्य विनोद शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित इस समारोह में निदेशक हिमाचल जोन-ई रमा परवान ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। मुख्यातिथि ने स्कूल के मेधावी बच्चों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया। इनमें शैक्षणिक गतिविधियों में अव्वल रहने वाले बच्चों में क्षितिज कश्यप, ज्योत्सना, निखिल, आरूषि, निहारिका, श्रृष्टि, शुभम, भारत, आकाश, अनुभव, अन्नय, दिशा, शिवम, अनन्य, मन्य, चंदन, ऊजाल, मोहित, मनीष, सोनल, निधी, अमनदीप, अमीषा, धु्रव, मयंक, मृदुल, शिवानी, सुरभी, आर्यन, आकृत, सात्विक, दिव्यम, सोनिया, एंजल, आस्था व अखिल सहित अन्यों कोे सम्मानित किया। इसके साथ ही नीट की परीक्षा पास कर चुके कनिष्क, पलक भारती व नविता को भी सम्मानित किया। खेलकूद प्रतियोगिता में नेशनल खिलाड़ी आरती व पल्लवी, योगा में श्नेहल, चंदन, अक्षत, नमन, शिवांश व स्टेट लेवल किक बॉक्सिंग में परमजीत व अनुज तथा सीएससी में मान्य, सान्वी, साक्षी व एंजल को सम्मानित किया गया। समारोह में स्कूली बच्चों ने विभिन्न मनमोहक प्रस्तुतियां प्रस्तुत दी गई। इनमें क्लासिकल, लीली पीट, गु्रप सांग, कांगड़ा नृत्य, डीएवी गान, नाटी, झारखंडी, उत्तराखंडी, छत्तीसगढ़ी, पंजाबी व फोक फ्यूजन सहित अन्य शामिल रही। सांस्कृतिक कार्यक्रम में कनिष्का, ईशा, शिल्पा, महक, सरियाल, मुस्कान, आरती, दिव्यांशी, स्मृति, कनिका, निधि, सलोनी, आशीष, निशांत, अंशुल, रिशव, दीक्षांत, आदित्या, निखिल, रितिका, आशिका, दीक्षा, सुप्रिया, शगुन, दिपाली, तमन्ना, रिया, अंकित, कंचन, पलक, नेहा, आरती, अंकिता, कशिश व अकांक्षा सहित अन्यों ने भाग लिया। वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह में उपस्थित बच्चों व अभिभावकों सहित स्टाफ व अन्यों को संबोंधित करते हुए रमा परवान ने मेहनत करने तथा आधुनिक उपकरणों मोबाइल व इंटरनेट का सीमित व समुचित उपयोग करने का संदेश दिया।  उन्होंने अभिभावकों से आह्वान किया कि छात्रों की हर गतिविधि पर नजर रखें तथा उनके साथ एक दोस्त की तरह जीवन व्यतीत करें।

You might also like