फनकारों ने बिखेरा आवाज का जादू

आरके इंटरनेशनल स्कूल में ‘हिमाचल की आवाज’

नवाही — प्रदेश के अग्रणी मीडिया ग्रुप ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा मेगा इवेंट ‘हिमाचल की आवाज-2017’ के ऑडिशन  मंगलवार को सरकाघाट आरके इंटरनेशनल स्कूल नवाही में आयोजित किया गया। इस दौरान बच्चों ने अपनी प्रस्तुति से खूब धमाल मचाया। आरके इंटरनेशनल स्कूल नवाही में सुबह 11 बजे जैसे ही ऑडिशन शुरू हुआ तो प्रतिभागियों की पंजीकरण करवाने के लिए हाल से बाहर तक कतार लग गई। हिमाचल की आवाज का ऑडिशन देने पहुंचे प्रतिभागियों व अभिभावकों के साथ पल भर में भी हाल भर गया। ऑडिशन में मुख्यातिथि के रूप में आरके इंटरनेशनल स्कूल नवाही के प्रधानाचार्य एसके शर्मा ने शिरकत की। उन्होंने ऑडिशन का आगाज सरस्वती पूजन व दीप प्रज्वलित करके किया। इसके उपरांत मंडी जिला के ब्यूरो प्रमुख अमन अग्निहोत्री ने मुख्यातिथि को शॉल व स्मृति चिन्ह भेंट कर स्वागत किया। क्षेत्र में पहली मर्तबा ऑडिशन होने के कारण प्रतिभागियों एक से बढ़कर एक मधुर  सुरीली आवाज में प्रस्तुति दी कि हाल में मौजूद दर्शक व जजेज तालियां बजाने से खुद को नहीं रोक पाए। ऑडिशन में सरकाघाट के अलावा धर्मपुर सहित अन्य क्षेत्रों से करीब 100 से अधिक जूनियर व सीनियर वर्ग के बच्चों सहित अन्य ने भाग लिया। प्रतिभागियों ने पहाड़ी, पंजाबी सहित अन्य लोकल तरानों में प्रस्तुति देकर मन मोह लिया। जूनियर व सीनियर वर्ग के ऑडिशन के आरके इंटरनेशनल स्कूल के बच्चों में प्रांशुल ने जीना-जीना, अभिषेक ने बदनाम, वरुण गुप्ता ने कितनी अच्छी है, कितनी प्यारी है, इतिशा ने पापा ओ मेरे पापा, हिमांशु ने रावता, साहिल ने हम तेरे बिन रह नहीं सकते, कोमल ने कितनी भोली है कितनी प्यारी है मां, नमन ने चन्ना मेराया ने गानों की सुरीली आवाज में प्रस्तुति दी। इसके अलावा छातर स्कूल की तनिशा ने कुदरत ने खेल रचाया, आरती ने पहाड़ी गाना, डीएवी ग्रयोह स्कूल की पलक ने कौन तुझे, प्रिया ने आदमी खिलौना, उर्मिला ने चंबे दी दो बेडि़यां, कनिका ने अमां पूछती, सुशील ने गुलाबी आंखें, साइया ने अभी-अभी दिल भरा है, लक्ष्य ठाकुर ने हवाएं, तमन्ना ने मुझको बरसात बना लो सहित अन्य प्रतिभागियों ने शानदार प्रस्तुतियां देकर गायकी का लोहा मनवाया। इस अवसर पर जगदीश शर्मा, वीरेंद्र ठाकुर, सरकाघाट से पवन प्रेमी, नवाही से देसराज नामदेव, मंडी से अजय रांगड़ा, अनिल भाटिया, ललित सहित बच्चों के अभिभावक व स्कूल स्टाफ   उपस्थित रहे।

प्रतिभा निखारने का सुनहरा मौका

प्रदेश के अग्रणी मीडिया ग्रुप ‘दिव्य हिमाचल’ के कदमों को सराहा

नवाही — प्रदेश के अग्रणी मीडिया गु्रप ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा मेगा इवेंट ‘हिमाचल की आवाज-2017’ के ऑडिशन के मुख्यातिथि आरके इंटरनेशनल स्कूल नवाही के प्रधानाचार्य एसके शर्मा ने  ‘दिव्य हिमाचल’ के ऑडिशन की भारी प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि मीडिया गु्रप ने सरकाघाट क्षेत्र में पहली मर्तबा प्रतिभागियों की प्रतिभा को निखारने के लिए घरद्वार पर मंच दिया है। ऑडिशन के माध्यम से जहां प्रतिभागियों की अपने प्रदर्शन के लिए मंच मिला है, वहीं प्रतिभागी अपनी सुरीली आवाज को मंच के माध्यम से अपना बेहतर भविष्य बना सकते हैं। उन्होंने कहा कि दूरदराज के बच्चों में हुनर तो होता है, लेकिन कुछ बच्चे शहरी क्षेत्र तक पहुंचने में असमर्थ होते हैं। उन्होंने छोटे-छोटे बच्चों द्वारा तोतली आवाज में पहाड़ी, पंजाबी और हिंदी गाने प्रस्तुत करने पर प्रशंसा की। उन्होंने सरकाघाट, पौंटा, भांबला, नवाही, फतेहपुर, धर्मपुर, ग्रयोह, छातर, पीपली सहित अन्य दूरदराज से ऑडिशन देने पहुंचे बच्चों सहित ‘दिव्य हिमाचल’ टीम को बधाई दी। इसके अलावा ऑडिशन पैनल में शामिल जजेज ब्वायज स्कूल सरकाघाट के संजय जम्वाल, सरकाघाट के कालेज से मनोज कुमार और आरके इंटरनेशनल स्कूल के संगीत शिक्षक अनिल कुमार ने गायकों की भारी प्रशंसा की। उन्होंने गायकी में सुधार लाने के लिए प्रतिभागियों को टिप्स भी दिए। इसके अलावा एंकर संजय ठाकुर ने बेहतर एकरिंग करके प्रतिभागियों का खूब मनोरंजन किया।  ऑडिशन को लेकर आरके इंटरनेशनल स्कूल के मेधावियों में भी जबरदस्त माहौल व उत्साह देखने को मिला। इसके अलावा बच्चों के अभिभावकों में भी ‘दिव्य हिमाचल’ के हिमाचल की आवाज ऑडिशन को लेकर भारी उत्साह दिखा।

मजबूत इरादों को दिव्य हिमाचल ने दिए ‘पंख’

उत्तराखंड के विकासनगर की तनिशा ने दिया ऑडिशन

नवाही — अपने माता-पिता के सपनों को साकार करने के लिए गरीब परिवारों के बच्चे भी ऑडिशन देने नवाही पहुंचे। इसमें उत्तराखंड राज्य के विकासनगर की जूनियर वर्ग में तनिशा मेगा इवेंट हिमाचल की आवाज में ऑडिशन देने पहुंची।  तनिशा ने ‘ओ शेला लगदी कांबला’  गीत गाकर शानदार प्रस्तुति दी। राजकीय केंद्रीय प्राथमिक पाठशाला छातर में पांचवीं कक्षा की छात्रा तनिशा दो वर्षों से गायकी की तैयारी कर रही है। छात्रा के पिता सुनील और मां हेमा बाहरी राज्य से धर्मपुर क्षेत्र में काफी वर्षों से मजदूरी करते हैं। तनिशा ने अभी तक केवल स्कूलों के कार्यक्रम में ही प्रस्तुति दे पाई है। इसमें छात्रा ने बेहतर प्रदर्शन कर इनाम प्राप्त किए।  मंच न मिलने के कारण तनिशा के माता-पिता में थोड़ी निराशा थी,  लेकिन जैसे ही तनिशा के परिजनों को प्रदेश के अग्रणी मीडिया गु्रप ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा मेगा इवेंट हिमाचल की आवाज के ऑडिशन का पता चला, तो तुरंत ऑडिशन का पता करके नबाही पहुंच गए। तनिशा के पिता सुनील कुमार का कहना है कि सरकाघाट क्षेत्र में पहली बार में हिमाचल की आवाज के लिए ऑडिशन होने से काफी खुश हैं। इसके अलावा छातर पिपली स्कूल में आठवीं की छात्रा दीक्षा भी गरीब परिवार से हैं। परिजन दिहाड़ी-मजदूरी करके परिवार का पालन-पोषण कर रहे हैं। उक्त छात्रा के माता वयासा देवी का कहन.ा है कि उनकी लड़की गीत-संगीत में काफी रुचि रखती है। ऑडिशन के लिए कोई जरिया नहीं मिल रहा था, लेकिन ‘दिव्य हिमाचल’ के माध्यम से आगे बढ़ने का मौका मिला है।

 

You might also like