सीएचसी धर्मपुर में स्वास्थ्य सेवाएं रामभरोसे

धर्मपुर — कालका-शिमला नेशनल हाई-वे पांच के किनारे स्थित धर्मपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इन दिनों स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह से चरमराई हुई है। इन दिनों धर्मपुर के अस्पताल में डेपुटेशन पर विभाग द्वारा एक चिकित्सक की तैनाती की गई है, जिस कारण लोगों को भारी परेशानी हो रही है। गौर हो कि कालका-शिमला नेशनल हाई-वे के पर अति संवेदनशील श्रेणी में आने वाला धर्मपुर का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र केवल एक ही चिकित्सक के सहारे चल रहा है और वह चिकित्सक भी डेपुटेशन पर अस्पलात में तैनात है। इस अस्पताल पर क्षेत्र की लगभग बीस हजार आबादी का जिम्मा है। चिकित्सकों की कमी के कारण लोगों को अस्पताल में बेहतर सुविधा नहीं मिल पा रही है। बता दें कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र धर्मपुर में पिछले काफ ी वर्षों से एक ही चिकित्सक के सहारे पर चल रहा है परंतु चिकित्सक का तबादला होने के बाद अब उस स्थान पर डेपुटेशन पर चिकित्सक को तैनात किया है। जिसको देख ऐसा लगता है कि लोगों को जीवन दान देने वाला अस्पताल खुद अपना जीवन ढूंढ रहा है। अस्पताल में महिला चिकित्सक का न होने के कारण भी महिलाओं को भारी परेशानी झेलनी पड़ रही है, जिसके चलते महिलाओं को अपना इलाज करवाने के लिए सोलन, शिमला, चंडीगढ़ की ओर रुख करना पड़ता है। वहीं महिला चिकित्सक का पद भी स्वीकृत नहीं है, जिसके कारण महिलाओं को  निजी क्लीनिकों में महंगे दामों पर अपना इलाज करवाने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है, लेकिन सीएचसी धर्मपुर  सिर्फ एक चिकित्सक के सहारे है। स्थानीय लोगों का भी कहना हैं कि धर्मपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में जल्द चिकित्सकों के पदों को स्वीकृति दी जानी चाहिए ताकि इलाज करवाने के लिए इधर-उधर न भटकना पड़े।

You might also like