अब बिझड़ी में कटे खैर के पेड़

पैहरवीं में वन विभाग की टीम ने जब्त किए 493 मोच्छे

बिझड़ी – उपमंडल की पैहरवीं वन बीट में सैकड़ों खैर के पेड़ों पर कुल्हाड़ी चली है। अवैध रूप से काटे गए पेड़ों की सूचना वन विभाग को शनिवार आधी रात मिली। रात को ही विभागीय अधिकारियों की टीम मौके पर पहुंची। अवैध रूप से काटकर रखी गई खैर की लकड़ी विभाग ने कब्जे में ले ली है। विभाग की मानें तो ठेकेदार को पुदंड़ बीट से 180 पेड़ काटने की अनुमति दी गई थी। पैहरवीं बीट से भी खैर के पेड़ काटे गए हैं। दर्जनों खैर के पेड़ काटे जाने पर विभाग की टीम ने मौके पर पंहुचकर 493 मोच्छे जब्त कर लिए हैं। शनिवार रात वन विभाग को सूचना मिली कि क्षेत्र में अवैध कटान हो रहा है। शिकायत मिलने के बाद आधी रात ही वन विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे और छानबीन शुरू कर दी। रविवार सुबह वन विभाग की डीएफओ प्रीति भंडारी ने टीम सहित मौके पर पहुंचकर सारे मामले का निरीक्षण किया। स्थिति की गंभीरता देखते हुए विभाग के बड़सर, नादौन, अग्घार, हमीरपुर व बिझड़ी रेंज के अधिकारी मौके  पर स्थिति का जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान वन विभाग की टीम ने कई जगह खैर के मोच्छे बरामद किए। डीएफओ प्रीति भंडारी ने कहा कि विभाग ने पुंदड़ बीट में मलकीयत भूमि से ठेकेदार को खैर के 180 पेड़ों के कटान की अनुमति दी है। पैहरवीं बीट की मलकीयत भूमि से कटान की कोई अनुमति नहीं दी है। टीम सहित पूरे क्षेत्र का निरीक्षण किया गया है। शिकायत मिलते ही काटी गई लकड़ी जब्त कर ली गई है। राजस्व विभाग की पैमाइश के बाद स्थिति पूरी तरह स्पष्ट होगी।

You might also like