गुम्मा में छह, चौपाल में चार कमरे राख

अग्निकांड में 40 से 50 लाख का आरंभिक नुकसान, छिवती में छिनी छत

ठियोग, नेरवा,चौपाल— तहसील कोटखाई के गुम्मा बाजार में शनिवार दोपहर करीब अढ़ाई बजे एक मकान में  आग लग जाने से ऊपरी मंजिल के 6 कमरे जलकर राख हो गए।  मकान के अंदर पड़ा सारा सामान भी आग की भेंट चढ़ गया।  घटना के वक्त घर के सभी सदस्य बाहर गए हुए थे।  तहसीलदार कोटखाई विद्याधर नेगी ने आग की घटना के बाद मौके का मुआयना किया । उन्होेंन बताया कि रोहित पुत्र ओमप्रकाश के इस मकान की ऊपरी मंजिल में आग की यह घटना हुई है,  हालांकि जब तक आग नीचे दुकानों तक पहुंच पाती तक  फायर ने आग पर काबू पा लिया था। उन्होंने बताया कि आग की इस घटना में अभी 40 से 50 लाख के नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है।  प्रशासन की ओर से पीडि़त परिवार को फौरी राहत के तौर पर 20 हजार की सहायता राशि मौके पर प्रदान की गई । जुब्बल-कोटखाई के स्थानीय विधायक नरेंद्र बरागटा ने भी मौके का मुआयना किया और   हर संभव सहायता देने के निर्देश स्थानीय प्रशासन को दिए हैं। वहींचौपाल की पंचायत खगना के छिवती में आग लगने से  दो मंजिला मकान के चार कमरे, एक रसोईघर, दो टोली घास व सैकड़ों सेब के पौधे जलकर राख हो गए। अग्निकांड के समय घर की मालकिन रमला देवी घर पर नहीं थी।   जानकारी के मुताबिक गुरुवार को खगना के जंगल में आग लगी थी व यह फैल कर छिवती की तरफ आ गई और आग ने रमला के घर को अपनी चपेट में ले लिया।   रमला तन पर पहने कपड़ों के सिवाय कुछ भी नहीं बचा पाई व उसकी जीवनभर की जमा पूंजी दावानल की भेंट चढ़ गई। क्षेत्र में पड़ रही कड़ाके की ठंड के बीच रमला का परिवार खुले आसमान के नीचे आ गया है। तहसीलदार चौपाल माया राम ने बताया कि हलका पटवारी को मौके पर भेज कर प्रभावित परिवार को पांच हजार रुपए की राशि फौरी राहत के रूप में प्रदान की गई है।

 

You might also like