दस बजे तक पहुंचें दफ्तर

मुख्य सचिव विनीत चौधरी ने अधिकारियों को जारी किए निर्देश

शिमला— अफसरशाही की लेटलतीफी रोकने व उन्हें समय का पाबंद बनाने के लिए नए मुख्य सचिव ने शिकंजा कस दिया है। मुख्य सचिव विनीत चौधरी ने जारी आदेशों में कहा कि सभी अफसर सुबह दस बजे तक सचिवालय पहुंचना सुनिश्चित करें। गौर हो कि सरकार बदलते ही प्रदेश के विभिन्न विभागों में फेरबदल किए गए हैं। इसके साथ ही सचिवालय से लेकर अन्य सरकारी दफ्तरों में कार्य संस्कृति को सुदृढ़ बनाने के लिए विभिन्न कदम उठाए जा रहे हैं। इसके चलते अधिकारियों से भी जनकल्याण से जुड़ी योजनाओं को जल्द कार्यान्वित करने को कहा गया है। इतना ही नहीं, प्रदेश में सड़क, यातायात, शिक्षा, परिवहन, संचार सुविधाओं को सुदृढ़ करने को सरकार ने अपनी प्राथमिकता में शामिल किया है। हिमाचल प्रदेश में हाल ही में चुनी गई नई सरकार विकास के लिए प्रतिबद्ध है। इसी के चलते प्रदेश सरकार की ओर से लंबित पड़े कार्यों को जल्द निपटाने के निर्देश दिए गए हैं। अब मुख्य सचिव ने भी अफसरों को समय पर सचिवालय पहुंचने के निर्देश जारी कर दिए हैं, ताकि जनहित से जुड़े कार्य तय समय में पूरे हो सकें। गौरतलब है कि कुछ अधिकारी अकसर लेट आफिस पहुंचते थे। इसी का संज्ञान लेते हुए मुख्य सचिव सख्त आदेश जारी किए हैं। इसके अलावा उन अफसरों को राहत दी गई है जो किसी काम से दूसरे विभाग में जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने भी दिया सहयोग का मंत्र

कुछ दिन पहले मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने प्र्रशासनिक सचिवों तथा विभागाध्यक्षों के साथ बैठक करते हुए लंबित कार्यों को जल्द पूरा करने को कहा था। सीएम ने इसके लिए सौ दिनों का लक्ष्य निर्धारित करने की नसीहत दी थी। मुख्यमंत्री ने कहा था कि सभी को मिलकर हिमाचल को एक ऐसा राज्य बनाना चाहिए, जिसका अनुसरण दूसरे राज्य भी करें। सीएम के अनुसार हिमाचल में विकास तथा जनकल्याण के लिए सभी अधिकारियों का समर्थन व सहयोग आवश्यक है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि प्रदेश में बनी सरकार किसी भी मंच पर सुझावों का स्वागत करती है और सरकार सभी महकमों का पूर्ण सहयोग करेगी।

You might also like