हिमाचल में पर्यटन पुलिस की सख्त जरूरत

प्रदेश में टूरिस्ट स्पॉट पर सैलानियों से आए दिन हो रही बदसलूकी पर उठी मांग, धूल फांक रहा प्रस्ताव

धर्मशाला — पहाड़ की भोली-भाली जनता व प्राकृतिक सौंदर्य से धनी हिमाचल प्रदेश में अब अतिथि देवो भवः की संस्कृति कोई खो रही है। प्रदेश में नए साल को मनाने के लिए बाहरी राज्यों से पहुंचे पर्यटकों पर स्थानीय लोगों द्वारा पुलिस के सामने अव्यवहार तो कहीं पुलिस की बदसलूकी प्रदेश की छवि को धूमिल कर रही है। ऐसे में प्रदेश में पर्यटन को पंख लगाने में पर्यटन पुलिस का अभाव आडे़ आने लगा है। प्रदेश में आधे से ज्यादा जनता पर्यटन उद्योग पर निर्भर है, लेकिन प्रदेश पुलिस का पर्यटकों के साथ व्यवहार कहीं न कहीं प्रदेश के पर्यटन को अंधेरे की ओर धकेल रहा है। प्रदेश के प्रमुख पर्यटक स्थलों पर अब पर्यटन पुलिस की कमी खलने लगी है। इसमें धर्मशाला-मकलोडगंज, शिमला, कुल्लू, मनाली, खजियार, डलहौजी सहित जवालाजी, चामुंडा, चिंतपूर्णी, बज्रेश्वरी और मणिकर्ण, मणिमहेश जैसे धार्मिक स्थलों पर भी पर्यटन पुलिस की दरकार है। टूरिज्म विशेषज्ञों की मानें तो प्रदेश के प्रमुख पर्यटन स्थलों पर टूरिज्म पुलिस ड्यूटी पर तैनात होनी चाहिए, ताकि देवभूमि आगामी समय में अपनी प्राकृतिक खूबसूरती के साथ-साथ व्यावहारिक दृष्टि से खोते आस्तित्व को बचा सके। पर्यटन पुलिस प्रदेश में नया मसला नहीं है। पूर्व भाजपा सरकार के कार्यकाल के दौरान यह मुद्दा जोर-शोर से गूंजा था और इस पर अधिकारियों व सरकार के बीच बैठकें भी आयोजित हो चुकी हैं, लेकिन प्रोपोजल सिरे नहीं चढ़ पाया है। इसी के अभाव में आज प्रदेश इस दौर से गुजर रहा है। नए साल को सेलिब्रेट करने मनाली पहुंचे युवाओं के साथ मारमीट का मामला सोशल मीडिया पर छाया हुआ है।

गोवा से सीख ले हिमाचल 

गोवा राज्य में दुनिया भर से पर्यटक भारी संख्या में पहुंचते हैं। इस राज्य में 1990 से पर्यटन पुलिस का गठन किया है। इससे राज्य के पर्यटन को चार चांद लगे हैं। प्रदेश को भी गोवा से सीख लेनी चाहिए

इसलिए हैं जरूरी

पर्यटन पुलिस को साधारण शब्दों में परिभाषित किया जाए तो यह होगा कि पर्र्यटकों की सुविधा, सहूलियत, सुरक्षा, मार्गदर्शन व स्थानीय खतरों से अवगत करवाना मुख्य कार्य होता है। यह पुलिस स्पेशल भी भर्ती की जा सकती है और पुलिस के जवानों को स्पेशल ट्रेनिग देकर भी तैयार किया जा सकती है। यह मात्र पर्यटकों को सुविधा देने का ही कार्य करती है।

You might also like