विदेशी बंदूक से मूर्छित होंगे जानवर

वन विभाग ने अमरीका से मंगवाईं पांच टै्रंक्युलाइजर गन

ऊना— वन विभाग अब आतंक मचा रहे जंगली जानवरों तेंदुए, आवारा पशुओं को काबू करने के लिए अमेरिका की टै्रंक्युलाइजर गन से काबू करेगा। वन विभाग द्वारा अमरीका से मंगवाई गई पांच टै्रंक्युलाइजर गन इंडिया पहुंच चुकी हैं। जल्द ही अब प्रदेश वन विभाग के पास अपनी पांच और टै्रंक्युलाइजर गन होंगी, जिससे वन विभाग में टै्रंक्युलाइजर गन की संख्या भी दस हो जाएगी। ये गन यूएसए से मध्य प्रदेश के इंदौर में पहुंच गई हैं, जहां से इन्हें वन विभाग के हैडक्वार्टर शिमला पहुंचाया जाएगा। इसके बाद ही संबंधित जिला को इन्हें सौंपा जाएगा। एक गन की कीमत करीब अढ़ाईसे दस लाख तक होती है। हालांकि इन गन को चलाने का प्रशिक्षण वैटरिनरी विभाग के कर्मचारी को दिया जाता है, लेकिन जो गन अमरीका से मंगवाई गई हैं, उन्हें चलाने का प्रशिक्षण वन विभाग के कर्मचारियों को दिया जाएगा।  उल्लेखनीय है कि वन विभाग को लंबे समय से टै्रंक्युलाइजर गन की कमी खल रही थी। इसके चलते कई बार तो वन कर्मियों पर भी तेंदुए हमला कर चुके हैं। इसमें कई वन कर्मी घायल हो चुके हैं। वहीं, सड़कों पर घूम रहे कई लावारिस पशु भी आम लोगों पर हमले कर रहे हैं। ऐसे पशुओं पर अंकुश लगाने के लिए टै्रंक्युलाइजर गन का प्रयोग किया जा सकता है।

अपने सपनों के जीवनसंगी को ढूँढिये भारत  मैट्रिमोनी पर – निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन!

You might also like