अमरीका में हिंदू देवताओं का अपमान

बाथरूम की दीवारों पर लगा दीं मां सरस्वती-दुर्गा की तस्वीरें

 न्यूयार्क —अमरीका में हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का एक मामला सामने आया है। यहां के एक नाइट क्लब के बाथरूम की दीवारों पर सरस्वती, दुर्गा, काली, शिव और गणेश की तस्वीरें लगी दिखाई दी हैं। इस संबंध में एक भारतीय महिला ने क्लब से लिखित में इसकी शिकायत की, जिसके बाद बाथरूम के डिजाइनर ने सांस्कृतिक अज्ञानता को लेकर माफी मांगी है। अमरीका के ओहियो राज्य में रहने वाली अंकिता मिश्रा ने ‘माई कल्चर इज नॉट योर बाथरूम’ हैशटैग के साथ इंस्ट्राग्राम पर लिखा कि पिछले सप्ताहांत न्यूयार्क के यश क्लब के बाथरूम का इस्तेमाल नहीं कर पाईं। आपने भारतीय देवी-देवताओं की तस्वीर बाथरूम में क्यों लगाई। अंकित जब इस क्लब के वॉशरूम में गईर्ं तो वह हैरान रह गईं। उन्होंने अपने ब्लॉग में लिखा कि पिछले महीने दोस्तों के साथ नाइट आउट के दौरान मैं शांत नहीं रह पाई जब मैंने न्यूयार्क हाउस ऑफ यस के वीआईपी बाथरूम की सजावट देखी। दीवारों को हिंदू देवी-देवताओं- काली, दुर्गा, शिव और गणेश की तस्वीरों से भर दिया गया था। हालांकि, अंकिता यहीं चुप नहीं बैठीं उन्होंने सीधे क्लब को ई-मेल के जरिए शिकायत की। उन्होंने लिखा कि सार्वजनिक स्थान पर शांति बनाए रखने के लिए मैं अपनी आवाज दबाती आई हूं। हालांकि, फेसबुक और इंस्टाग्राम पर हाउस ऑफ यस को लेकर मेरे अनुभव को शेयर करने के बाद मैं आपसे सीधे संपर्क करना चाहती हूं। मुझे भरोसा है कि हाउस ऑफ यस ऐसी जगह है जहां संभवतः मेरी आवाज सुनी जाएगी और जहां अच्छाई के लिए बदलाव हो सकता है। अंकिता के मेल के जवाब में उन्हें क्लब की तरफ से डिजाइनर का मेल आया, जिन्होंने अपनी सांस्कृतिक अज्ञानता के लिए न सिर्फ माफी मांगी, बल्कि यह भरोसा भी दिलाया कि जल्द ही बाथरूम की दीवारों को बदल दिया जाएगा। डिजाइनर ने लिखा कि उन्हें अफसोस है कि बाथरूम तैयार कराने से पहले उन्होंने इस संस्कृति को लेकर शोध नहीं किया।

जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत  मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन!

 

You might also like