दस से फिर करवट लेगा मौसम

विभाग का पूर्वानुमान, प्रदेश के सात जिलों में बारिश-बर्फबारी के आसार

शिमला –प्रदेश में कुछ दिनों की राहत के बाद लोगों को फिर से कड़ाके की ठंड का सामना करना पड़ सकता है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के तहत 10 नवंबर से प्रदेश के शिमला, कुल्लू, मंडी, सिरमौर, सोलन सहित किन्नौर, लाहुल-स्पीति में कुछ स्थानों पर बारिश व बर्फबारी होगी। यह क्रम 12 नवंबर तक जारी रहेगा।  हालांकि  मैदानी क्षेत्रों में 12 नवंबर तक मौसम साफ बना रहने का पूर्वानुमान लगाया है। पहाड़ों में कुछ क्षेत्रों पर हल्की बर्फबारी व बारिश की संभावनाएं जताई जा रही है, जो प्रदेश को फिर से शीतलहर की चपेट में ला सकती है।  मंगलवार को प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में मौसम साफ बना रहा। दिन भर चटक धूप खिलने से अधिकतम तापमान में  दो से तीन डिग्री का उछाल आया है। हालांकि न्यूनतम तापमान में कोई उल्लेखनीय परिवर्तन नहीं आंका गया है। मगर दिन के समय धूप खिलने से लोगों ने  ठंड से कुछ हद तक राहत की सांस ली है। बीते 24 घंटों के दौरान जिला शिमला के कुछ स्थानों सहित डलहौजी, चंबा व मंडी में एक-दो स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी भी दर्ज की गई है। प्रदेश के कल्पा व केलांग का न्यूनतम तापमान अभी भी माइनस डिग्री में ही चल रहा है। इसके अलावा राज्य के अन्य पर्वतीय क्षेत्रों में भी न्यूनतम तापमान में गिरावट के चलते अभी भी लोगों को कड़ाके की ठंड का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग के निदेशक डा. मनमोहन सिंह ने बताया कि प्रदेश के मध्यम व उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में 10 नवंबर से मौसम फिर करवट लेगा। इन क्षेत्रों में 12 नवंबर तक मौसम खराब ही बना रहेगा। इस दौरान कुछ स्थानों में बारिश के साथ बर्फबारी होगी। जिससे तापमान में गिरावट आने की संभावना है। वहीं बीते 24 घंटों के दौरान प्रदेश के कुछ इलाकों में बारिश दर्ज की गई है। सरकाघाट में सबसे अधिक 10 मिलीमीटर बारिश आंकी गई है। इसके अलावा खैरी, कोठी में सात-सात मिलीमीटर, मशोबरा में चार मिलीमीटर, कुफरी, जुब्बल, पंडोह में तीन-तीन, सुजानपुर टिहरा व भराड़ी में दो-दो और डलहौजी-ठियोग में एक-एक मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है।

You might also like